Home » बिहार में रामनवमी पर जगह-जगह हिंसा भड़क उठी, नालंदा-सासाराम में धारा 144 लगाई

बिहार में रामनवमी पर जगह-जगह हिंसा भड़क उठी, नालंदा-सासाराम में धारा 144 लगाई

  • बिहार के कई जिलों में शुक्रवार को रामनवमी जुलूस के दौरान हिंसा की घटनाएं हुईं।
  • दोनों जिलों में धारा-144 लागू है। भागलपुर गया और औरंगाबाद में भी पथराव और मारपीट की घटनाएं घटी जिसमें महिला सहित कई लोग घायल हैं।
    पटना ।
    बिहार के कई जिलों में रामनवमी जुलूस के दौरान हिंसा भड़क उठी। तनावपूर्ण माहौल के बीच भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। नालंदा, रोहतास और गया में सबसे अधिक बवाल हुआ। पुलिसकर्मी, महिला समेत दर्जनों लोग घायल हुए। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए प्रशान ने धारा-144 लगा दी है। नालंदा में रामनवमी के दूसरे दिन शुक्रवार को माहौल तब खराब हुआ, जब बजरंग दल और विश्व हिन्दू परिषद द्वारा आयोजित शोभायात्रा पर कुछ असामाजिक तत्वों ने पथराव कर दिया। इसके बाद कई राउंड फायरिंग हुई। इसमें सात लोग गोली लगने से घायल हो गए। एक यात्री बस सहित दर्जन भर छोटे-बड़े वाहन के अलावा तकरीबन आधा दर्जन दुकानों में उपद्रवियों ने आग लगा दी और जमकर तोड़फोड़ की। घटना की गंभीरता को देखते हुए पूरे इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। धारा-144 लगा दी गई है। एसपी अशोक मिश्रा ने बताया कि पुलिस अलर्ट पर है। 20 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
    सासाराम में उपद्रव के बाद 20 गिरफ्तार
    वहीं, रोहतास जिले के सासाराम नगर थाना के नवरतन बाजार, गोला रोड समेत कुछ अन्य मोहल्लों में शुक्रवार को दो पक्षों के बीच झड़प होने के बाद जमकर पथराव हुआ, जिसमें दो पुलिसकर्मी बुरी तरह जख्मी हो गए। आधा दर्जन से ज्यादा वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं। एसडीपीओ संतोष कुमार राय ने बताया कि मामले में फिलहाल 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वायरल वीडियो के आधार पर अन्य की गिरफ्तारी के लिए भी छापेमारी जारी है। माहौल अशांत होने के बाद स्थिति को नियंत्रित कर लिया गया है। वर्तमान में स्थिति सामान्य है। तीन जिले की पुलिस हालात पर नजर बनाए हुए है। कैमूर, औरंगाबाद और भोजपुर जिले की पुलिस समेत एसएसबी की कंपनी को प्रभावित इलाके में तैनात हैं।
    गया में तीन अलग-अलग जगहों पर हिंसा
    वहीं, गया में तीन अलग-अलग थाना क्षेत्र में बवाल की खबर सामने आई। पहली घटना बेलागंज प्रखंड के चाकंद थाना क्षेत्र के डब्बू गांव में हुई। यहां रामनवमी शोभायात्रा के दौरान दो पक्षों में झड़प हुई। पुलिस पर भी पथराव किया गया, जिसमें दो जवान चोटिल हुए हैं। बेलागंज के ही भेड़िया गांव में रामनवमी जुलूस के दौरान दो पक्षों के झड़प के बाद पुलिस ने दो महिला सहित कुल छह नामजद लोगों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। मौके से उपद्रव में शामिल रौशन खातून पति जुमानी, आरजू खातून पति अरबाज, मो जमनउद्दीन, शिवरतन प्रसाद, प्रदीप कुमार, राकेश कुमार सभी ग्राम भेड़िया को मौके से गिरफ्तार किया गया। तीसरी घटना जिले के बाराचट्टी थाना क्षेत्र के भदेया बाजार में मुसेहना गांव की है। जुलूस लेकर जा रहे लोगों को एक पक्ष के लोगों द्वारा रोका गया, जिसपर हंगामा शुरू हो गया। दोनों पक्ष की ओर से मारपीट की गई। इसमें कई लोग घायल हुए हैं।
    भागलपुर में दो समुदायों के बीच झड़प में महिला घायल
    भागलपुर जिले के नवगछिया के खरीक में मूर्ति विसर्जन के बाद दो समुदायों के बीच झड़प हुई। इसमें एक महिला के घायल होने की खबर है। नवगछिया एसडीपीओ ने बताया कि स्थिति अब नियंत्रण में है। शांति कायम की जा रही है।