Home » आतंकी संगठन एचयूटी को लेकर भोपाल व छिंदवाड़ा में छापेमारी, 3 आतंकी सहित 16 संदिग्ध पकड़ाए,

आतंकी संगठन एचयूटी को लेकर भोपाल व छिंदवाड़ा में छापेमारी, 3 आतंकी सहित 16 संदिग्ध पकड़ाए,

एनआईए व मप्र एटीएस ने मंगलवार सुबह 6 बजे मारा छापा

भोपाल में गुप्त स्थान पर हो रही पूछताछ

भोपाल। शांति का टापू कहे जाने वाले मध्यप्रदेश में एक बार फिर बड़ी आतंकी साजिश का खुलासा हुआ है। राजधानी भोपाल और छिंदवाड़ा में आतंकी संगठन एचयूटी (हिज्ब उत तहरीर) के संदिग्धों के ठिकानों पर मंगलवार सुबह 6 बजे के करीब एनआईए और मप्र एटीएस ने संयुक्त रूप से छापा मारा है। भोपाल के ऐशगाब थाना क्षेत्र के सोनियां गांधी कॉलोनी से एक और बाग फरहत अफजा कॉलोनी से एचयूटी के दो आतंकियों को एनआईए ने पकड़ा है। इसके अलावा भोपाल के भोपाल के बाग उमराव दूल्ला, जवाहर कॉलोनी में भी छापेमारी हुई है। एनआईए और एटीएम की टीम ने छिंदवाड़ा में भी छापा मारकर कई युवकों को उठाया है।

मप्र एटीएस से मिली जानकारी के अनुसार कुल 16 लोगों को एचयूटी के लिए काम करने या उसके आतंकियों से बंद्ध होने पर उठाया गया है। सभी से छिंदवाड़ा और भोपाल में पूछताछ हो रही है। 16 संदिग्धों में तीन एचयूटी के आतंकवादी हैं, उनकी गिरफ्तारी की जाएगी, बाकी से पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा है कि एनआईए तीन को गिरफ्तार करेगी, बाकी के खिलाफ मप्र एटीएस आगे की कार्रवाई कर सकती है।

आईबी के रडॉर पर एक साल से थे

मप्र एटीएस के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एचयूटी अमेरिका बेस्ट आतंकी संगठन यह है। यह पूरा काम ऑनलाइन करता है। इसकी बातचीत कोड वर्ड में होने के साथ उर्दू भाषा में भी होती है। करीब दस माह पहले एचयूटी के मध्यप्रदेश सहित देश के कई राज्यों में युवाओं के बीच तेजी से पैर पसारने की सूचना इंटेलीजेंस ब्यूरो को मिली थी। इसके बाद इन पर नजर रखी जा रही थी। भोपाल के तीनों आतंकियों के खिलाफ करीब दस माह से आईबी की नजर थी।

देश में पहली बड़ी कार्रवाई

एचयूटी आतंकी संगठन के खिलाफ जांच का जिम्मा एनआईजी को कुछ माह पहले ही दिया गया था। दिल्ली स्थित एनआईए मुख्यालय में प्राथमिकी दर्ज है, एनआईए उसकी जांच कर रही है। जांच में भोपाल के ऐशबाग थाना क्षेत्र में तीन लोग एचयूटी आतंकी संगठन से जुड़े होने के पुख्ता प्रमाण मिलने के बाद बीती रात एनआईए की टीम दिल्ली से भोपाल पहुंचे। मंगलवार सुबह एनआईए की टीम ने मप्र एटीएस की टीम के साथ भोपाल में छापामार कार्रवाई करते हुए पकड़ा है।

शाम तक स्पष्ट होगी स्थिति

एनआईए और मप्र एटीएस नामों का खुलासा नहीं कर रही है, लेकिन बाग फरहत अफजा के जिन युवकों का उठाया है, वे सुबह ऐशबाग थाने पहुंच गए और बच्चों के अपहरण का आरोप लगाया। इसके बाद पुलिस हरकत में आती कि उसे एनआईए की कार्रवाई का पता चला।

स्थानीय पुलिस का नहीं लिया सहयोग

एनआईए की कार्रवाई इतनी गोपनीय रखी गई कि ऐशबाग थाना पुलिस के साथ भोपाल पुलिस को भी कोई सूचना नहीं दी गई थी। सुबह 7 बजे तक पकड़े गए संदिग्ध आतंकियों के परिजन थाने पहुंचे तो पुलिस को कुछ पता नहीं था। ज्ञात हो कि बीते वर्ष 14 मार्च को एनआईए ने मप्र एटीएस के साथ ऐशबाग थाने के सामने बांग्लादेशी आतंकी संगठन जेएमबी (जमात-उल-मुजाहिदीन) बांग्लादेश के चार आतंकियों को भी इसी तरह गिरफ्तार किया था। तब भी भोपाल जिले और ऐशबाग थाना पुलिस का कोई सहयोग नहीं लिया गया था।

Raids in Bhopal and Chhindwara regarding terrorist organization HUT, 16 suspects including 3 terrorists arrested.

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd