Home » मप्र देश का पहला राज्य बना, जहां विमान से बुजुर्गों को कराया जा रहा तीर्थ दर्शन

मप्र देश का पहला राज्य बना, जहां विमान से बुजुर्गों को कराया जा रहा तीर्थ दर्शन

32 तीर्थ यात्रियों का पहला जत्था भोपाल से प्रयागराज रवाना

मुख्यमंत्री ने बुजुर्गों को सम्मानित कर किया रवाना

भोपाल। मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है, जहां बुजुर्गों को हवाई जहाज से तीर्थ दर्शन कराया जा रहा है। रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल हवाई अड्डे से 32 तीर्थ यात्रियों को विमान से प्रयागराज के लिए रवाना किया है। 32 यात्रियों में 24 पुरुष और 8 महिला यात्री हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी बुजुर्ग तीर्थयात्रियों का सम्मान करते हुए कहा कि अब बुजुर्ग दंपति साथ में कर सकेंगे तीर्थ यात्रा। अभी तक एक घर से एक ही व्यक्ति को एक बार में यात्रा की पात्रता थी। अब दो लोगों को पात्र किया जा रहा है।

ऐसे में बुजुर्ग दंपति साथ में कर सकेंगे तीर्थ यात्रा भोपाल एयरपोर्ट से रविवार सुबह 9.45 बजे प्रयागराज के लिए 32 बुजुर्ग तीर्थ यात्रियों ने इंडिगो की फ्लाइट से उड़ान भरी। बुजुर्गों को यह यात्रा मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत कराई जा रही है। 19 जुलाई तक चलने वाली इस यात्रा में 25 जिलों के बुजुर्गों को प्रयागराज, शिरडी, मथुरा-वृंदावन और गंगासागर ले जाया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद बुजुर्गों को छोडऩे एयरपोर्ट तक आए। उन्होंने बुजुर्गोंको प्रयागराज के लिए रवाना करते हुए कहा, राम की कृपा से आप तीर्थों के दर्शन करेंगे और हमें व प्रदेश को आपका आशीर्वाद मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा, अगली फ्लाइट में जोड़े से बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा कराई जाएगी। अभी एक परिवार से एक ही जाता है। अगली फ्लाइट में दादा भी जाएंगे और दादी भी जाएंगी।

प्रयागराज की तीर्थ यात्रा में कुल 24 पुरुष और 8 महिला बुजुर्ग शामिल हैं। उनके साथ एक अनुरक्षक (एस्कॉर्ट) भी है। तीर्थ यात्रियों की मदद के लिए भोपाल एयरपोर्ट पर एक काउंटर भी बनाया गया। ट्रेन से प्रयागराज के तीर्थ दर्शन करने में 4 से 5 दिन का समय लगता है।

हवाई यात्रा से यह सफर 24 से 36 घंटे में पूरा हो जाएगा। निजी खर्च पर भोपाल से प्रयागराज की हवाई यात्रा की जाए, तो एक यात्री के एक तरफ से करीब साढ़े 3 हजार रुपए खर्च होंगे। दोनों तरफ से 7 हजार रुपए खर्च होते हैं।

जुलाई तक 25 जिलों के बुजुर्ग जाएंगे यात्रा पर

जुलाई तक प्रदेश के 25 जिलों के बुजुर्गों को प्रयागराज, शिरडी, मथुरा-वृंदावन और गंगासागर की प्लेन से तीर्थ यात्रा कराई जाएगी। 23 मई को आगर-मालवा जिले के तीर्थ यात्री इंदौर एयरपोर्ट से शिरडी जाएंगे। इंदौर, आलीराजपुर, धार, राजगढ़, रायसेन, सीहोर, झाबुआ, विदिशा, आगर मालवा, बैतूल, देवास, हरदा, मंदसौर, नर्मदापुरम, नीमच, दमोह, रतलाम, शाजापुर, सागर, उज्जैन, खंडवा, बड़वानी, बुरहानपुर और खरगोन के तीर्थ यात्री शिरडी, प्रयागराज, गंगासागर और मथुरा-वृंदावन की तीर्थ यात्रा प्लेन से करेंगे।

Madhya Pradesh became the first state in the country, where pilgrimage is being done to the elderly by plane.

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd