Home » विदेशी फंडिंग की राशि का दुरुपयोग करने पर 54 एनजीओ के लाइसेंस निरस्त

विदेशी फंडिंग की राशि का दुरुपयोग करने पर 54 एनजीओ के लाइसेंस निरस्त

120 एनजीओ के विदेशी फंडिंग की राशि के खर्च की हो रही जांच

भोपाल। प्रदेश में विदेशी फंडिंग लेकर अनैतिक कार्यों, देश विरोधी गतिविधियों, उग्रवाद और धार्मिक अहिष्णुता को बढ़ावा देने वाले एनजीओ के खिलाफ सरकार शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। विदेशी फंडिंग का गलत कार्यों में उपयोग करने वाले 54 एनजीओ के लाइसेंस निरस्त कर दिए गए हैं, जबकि 76 अन्य एनजीओ जांच के दायरे में हैं। ज्ञात हो कि 120 एनजीओ विदेशी फंडिंग को लेकर सरकार और जांच एजेंसियों के रडार पर हैं।

प्रदेश के 120 से अधिक एनजीओ की फॉरेन फंडिंग के इस्तेमाल के मामले में भूमिका संदिग्ध है। केंद्रीय गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के बाद प्रदेश में 54 एनजीओ का पंजीयन रद्द किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने वर्ष 2019-20 से वर्ष 2021-22 के बीच 730 करोड़ रुपये फॉरेन फंडिंग का प्रदेश के एनजीओ ने गलत इस्तेमाल किया।

सबसे ज्यादा मिशनरीज और इस्लामिक स्कॉलर से जुड़े हुए एनजीओ रडार पर हैं। जिन्होंने फॉरेन फंडिंग का गलत उपयोग किया। दरअसल, कई संस्थाएं जिस काम के लिए विदेश से राशि प्राप्त करती हैं उसकी जगह दूसरे काम में उसका उपयोग करते हैं। इस राशि के गबन के मामले भी सामने आ चुके हैं। जिसके चलते केंद्र ने भी इस पर सख्ती की है।

License of 54 NGOs canceled for misuse of foreign funding amount.

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd