Home » अमृतपाल को लेकर कड़ी दर कड़ी खुल रही परतें, जांच में हुआ हैरानीजनक खुलासा

अमृतपाल को लेकर कड़ी दर कड़ी खुल रही परतें, जांच में हुआ हैरानीजनक खुलासा

  • जांच दौरान कड़ी दर कड़ी परतें खुलती नजर आ रही हैं।
  • अमृतपाल होशियारपुर स्थित नडालों गुरुद्वारा साहिब में मौजूद था ।
    नई दिल्ली,
    अमृतपाल को लेकर हैरानीजनक खुलासा हुआ है। जांच दौरान कड़ी दर कड़ी परतें खुलती नजर आ रही हैं। सूत्रों के अुसार 27 मार्च को अमृतपाल होशियारपुर स्थित नडालों गुरुद्वारा साहिब में मौजूद था। उसने नडालों में गुरुद्वारा साहिब में पनाह ली थी। इस दौरान पप्पलप्रीत भी उसके साथ था। अगले दिन 28 मार्च को वे दोनों नडालों गुरुद्वारा से चले गए थे। पुलिस जांच में सामने आया है कि इस गुरुद्वारा साहिब की 50 ब्रांचें हैं जिसमें यू.पी. के पीलीभीत का गुरुद्वारा साहिब और उत्तराखंड में भी ब्रांच है। होशियारपुर स्थित जिस गुरुद्वारा साहिब के बाहर गाड़ी मिली थी वह भी इसी ब्रांच का एक हिस्सा है। पुलिस जब गुरुद्वारा साहिब में पहुंची तब तक ये दोनों वहां से निकल चुके थे। वहां से निकलने के बाद अमृतपाल ने गाड़ियां बदलीं जो गुरुद्वारा साहिब के बाहर बरामद हुई थीं। इस दौरान वह फगवाड़ा वाया होशियारपुर को निकले थे। यह भी सामने आया कि 28 मार्च को अमृतपाल और पप्पलप्रीत अलग-अलग हो गए थे। जिक्रयोग्य है कि गत दिनों पंजाब पुलिस यू.पी. स्थित पीलीभीत स्थित गुरुद्वारा साहिब मोहनापुर में छापेमारी की। पुलिस को संदेह था कि अमृतपाल ने उक्त गुरु घर में पनाह ली थी, जहां उन्होंने सी.सी.टी.वी. कैमरों को खंगाला था लेकिन इस दौरान कुछ कैमरे खराब मिले थे। पुलिस ने एक डी.वी.आर. भी अपने कब्जे में ली थी जिसमें जांच दौरान 25 तारीख से पहली की सारी फुटेज डिलीट कर दी गई थी उसमें केवल 26 तारीख की फुटेज ही मिली हैं। सूत्रों के अनुसार पुलिस को इस दौरान कई इनपुट मिले हैं जिसके आधार पर गहराई से जांच की जा रही है और सी.सी.टी.वी. भी खंगाले जा रहे हैं।