Home खास ख़बरें धारा-370 को लेकर दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं छोटे भाई...

धारा-370 को लेकर दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं छोटे भाई लक्ष्मण सिंह, कहा- जम्मू-कश्मीर में धारा-370 पुन: लागू करना संभव नहीं

24
0

भोपाल। क्लब हाउस चैट में केंद्र में कांग्रेस सत्ता में आने के बाद जम्मू-कश्मीर में दोबारा धारा 370 लगाने पर पुनर्विचार करने संबंधी बयान देकर भाजपा के निशाने पर आए दिग्विजय सिंह को उनके छोटे भाई व कांग्रेस विधायक इत्तेफक नहीं रखते हैं।

दिग्विजय सिंह को उनके इस बयान पर घर के लोग ही साथ नहीं हैं, वहीं कांग्रेस ने भी उनके बयान से पल्ला झाड़ लिया है। कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व भी इस मामले में दिग्विजय सिंह के बचाव में आने की स्थिति में नहीं दिख रहा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह ने ट्वीट कर कहा कि कश्मीर में धारा-370 वापस लागू करना संभव नहीं। हालांकि लक्ष्मण सिंह ने भाजपा को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि परंतु यह भी सत्य है कि धारा-370 का समर्थन करने वाले फारुख अब्दुल्ला एनडीए की सरकार में मंत्री रहे हैं।


ज्ञात हो कि लक्ष्मण सिंह पहले भी बेबाकी के साथ बयान देते रहे हैं। वर्ष 2018 में कांगे्रस को मध्यप्रदेश की सत्ता में वापसी करने वाली कमलनाथ सरकार की महत्वाकांक्षी योजना किसान कर्जमाफी सहित कई मुद्दों पर लक्ष्मण सिंह बेबाकी से बोलते रहे हैं।

प्रदेश में किसान कर्जमाफी को लेकर उन्होंने कहा था कि राहुल को किसानों का कर्ज 10 दिन में माफ करने का वादा नहीं करना चाहिए था। कमलनाथ सरकार अपना वादा पूरा नहीं कर पाई, इसलिए हाथ जोड़कर गलती मान लेनी चाहिए।

क्या है पूरा मामला?
एक दिन पहले क्लब हाउस चैट में एक पाकिस्तानी पत्रकार के सवाले में दिग्विजय सिंह ने कथित तौर पर कहा कि कश्मीर से धारा 370 को रद्द करने को लेकर कहा कि ‘यहां से जब धारा-370 हटाई गई, तब लोकतंत्रिक मूल्यों का पालन नहीं किया गया। इस दौरान न ही इंसानियत का तकाजा रखा गया और इसमें कश्मीरियत भी नहीं थी। सभी को कालकोठरी में बंद कर दिया गया।

अगर कांग्रेस सरकार सत्ता में आई, तो हम इस फैसले पर फिर से विचार करेंगे और धारा-370 लागू करेंगे। इसके बाद भाजपा लगातार उन पर हमले कर रही है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने सिंह की गतिविधियों की एनआईए से जांच कराने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री को पत्र भी लिख चुके हैं।

Previous articleरायसेन के गढ़ी रेन्ज में खेत की जाली मे फंसा तेंदुआ, भोपाल से भेजी रेस्क्यू टीम
Next articleमुख्यमंत्री बोले- बार-बार लॉकडाउन नहीं लगा सकते, आपको योजनाएं बनानी होंगी, कोरोना कर्फ्यू में कब और कैसी ढील दी जाए, क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप तय करेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here