Home खास ख़बरें बिना समाज की सहभागिता कोरोना को नहीं हरा सकते : मुख्यमंत्री

बिना समाज की सहभागिता कोरोना को नहीं हरा सकते : मुख्यमंत्री

21
0

31 मई तक अपना शहर कोरोना मुक्त पर काम करें नेतागण
भोपाल।
प्रदेश को कोरोना संक्रमण से मुक्त बनाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार प्रयास कर रहे हैं। इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री श्री चौहान शनिवार सुबह प्रदेश भर के नगरीय निकाय के पूर्व महापौर, नगर पालिका व नगर परिषद के पूर्व व निवर्तमान अध्यक्षों, पार्षदगणों के साथ अन्य जनप्रतिनिधियों से संवाद किया। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शहरी क्षेत्र के जनप्रतिनिणियों को संबांधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बिना समाज की सहभागिता के कोरोना को नहीं हर सकते हैं। प्रदेश को संक्रमण से मुक्त करने में समाज की बड़ी सहभागिता जरूरी है। जिला, ब्लॉक और वार्ड स्तर तक क्राइसिस मैनेजमेंट समितियां बनाई गई हैं। उक्त समितियों में जनप्रतिनिधि भी शामिल हैं। जनप्रतिनियिों को अपने-अपने क्षेत्र में लगातार भ्रमण करना चाहिए, वे देखें कि उनके क्षेत्र में कोरोना संक्रमण न बढऩे पाए। जनप्रतिनिधि लोगों को जागरुक करें, उन्हें कोरोना से बचने के उपाय बताने के साथ सरकार द्वारा बनाए गए नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित करें। निगरानी के साथ जांच और उपचार से हम कोरोना को बहुत जल्द हरा देंगे।
प्रवासी श्रमिकों को टेस्ट करके ही प्रवेश दिया जाए
मुख्यमंत्री श्री चौहाने ने कहा कि शनिवार को जो आंकड़े आए हैं, उसके आधार पर प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर 4.8 फीसदी रह गई है। जब पांच प्रतिशत से कम संक्रमण दर हो जाती है, तो मान लिया जाता है कि महामारी में नियंत्रण पा लिया गया है। लेकिन हमें कुछ जिलों में स्थिति को जल्दी संभालना है। ऐसे में जो प्रवासी श्रमिक शहरों में आ रहे हैं, उन्हें कोरोना जांच के बाद ही प्रवेश दिया जाए। मैं आज इसलिए आप सब को परेशान कर रहा हूं, क्यों कि अब करो या मरो की स्थिति आ गई है। हम सबको किसी भी सूरत में प्रयास कर कोरोना संक्रमण को प्रदेश में 31 मई तक समाप्त करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here