Home खास ख़बरें मध्यप्रदेश में एक जुलाई से फिर शुरू होगा वैक्सीनेशन का अभियान, बनेगी...

मध्यप्रदेश में एक जुलाई से फिर शुरू होगा वैक्सीनेशन का अभियान, बनेगी नई रणनीति

20
0

अब गरीब कल्याण योजना के लिए चलेगा अभियान
भोपाल।
प्रदेश में 21 जून को कोरोना टीकाकरण महाअभियान के तहत देश में सबसे अधिक टीके एक दिन में लगने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के मंत्रियों, जनप्रतिनिधियों और आम जनता सहित फंट लाइन वर्कर्स के साथ सभी को बधाई दी है। मंगलवार को कैबिनेट की बैठक शुरू होते ही प्रस्तावों पर विचार-विमर्श से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद, उन्होंने राज्यों को डोज उपलब्ध कराई। प्रदेश में 21 जून को 16 लाख 95 हजार लोगों को टीके लगाए गए हैं। राष्ट्रीय पोर्टल पर यह आंकड़े दर्ज हैं। उन्होंने कहा कि हम जनता की जिंदगी बचाने के लिए कोरोना टीका लगा रहे हैं।


मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अभियान तीन दिन में मूर्त रूप दिया गया है। अब एक जुलाई से तीन जुलाई तक फिर टीकाकरण अभियान शुरू किया जाएगा। प्रदेश की जनता को जल्द से जल्द टीके लगें, इसके लिए राज्य सरकार पूरा प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि अब जल्द ही प्रदेश में गरीब कल्याण योजना को लेकर अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कैबिनेट के साथियों को बधाई देते हुए कहा कि टीकाकरण में प्रदेश ने कीर्तिमान स्थापित किया है। टीकाकरण 30 जून तक निरंतर चलता रहेगा।

दो मंत्री बनाएंगे रूपरेखा
मुख्यमंत्री ने मंत्रियों से कहा कि आज शाम क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक बुलाई गई है। बैठक में टीकाकरण अभियान के भविष्य की रणनीति पर चर्चा होगी। खाद्य मंत्री बिसाहू लाल सिंह और सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया अभियान की रूपरेखा तैयार करेंगे। 1 जुलाई से स्थानांतरण शुरू होगा। मानवीय और प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरण किए जाएंगे।

रेत ठेकेदारों को राहत देने का प्रस्ताव
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मप्र कैबिनेट की बैठक शुरू हो गई है। कैबिनेट की बैठक में प्रदेश के रेत ठेकेदारों को राहत देने की तैयारी के प्रस्ताव पर भी विचार किया जा रहा है। प्रस्ताव के मुताबिक ठेकेदार 10 प्रतिशत फीस वृद्धि जमा कर 1 साल का ठेका बढ़ाने का विकल्प के साथ बकाया भुगतान 6 किस्तों में जमा करने की सुविधा का प्रावधान किया गया है। कोरोना महामारी की वजह से प्रभावित हुए कारोबार को देखते हुए ठेका अवधि 10 फीसदी फीस वृद्धि के जमा कर ठेके को एक साल बढ़ाया जा रहा है। यह राहत उन ठेकेदरों को मिलेगी, जिनकी ठेका अवधि 30 जून 2022 को समाप्त होगी। इतना ही नहीं, ठेकेदारों की बकाया भुगतान जनवरी 2022 से 6 समान किस्तों में करने की सुविधा दी जाएगी।

Previous articleमानसून की रफ्तार पड़ी धीमी, दिल्‍ली और आसपास के राज्‍यों में बारिश में होगी देरी
Next articleमछली पालन के नाम पर किसानों से ठगी की जांच एसआईटी करेगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here