Home खास ख़बरें यूडीएफ व एलडीएफ का मकसद महज जेबें भरना है : मोदी

यूडीएफ व एलडीएफ का मकसद महज जेबें भरना है : मोदी

8
0
  • केरल के पलक्कड़ में चुनावी सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा

पलक्कड़। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केरल की वामपंथी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वर्षों से राज्य में यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) और लेफ्ट डेमोक्रेटक फ्रंट (एलडीएफ) एक समझौते के तहत राज्य की जनता को गुमराह करती रही है। किंतु, अब राज्य की जनता और पहली बार मतदान करने वाले युवा यूडीएफ और एलडीएफ को खारिज करने का मन बना चुके हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को कहा कि एलडीएफ और यूडीएफ का मकसद केवल वोट बैंक की राजनीति करना और अपनी जेबें भरना है। वे पलक्कड़ की एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अपनी बात रख रहे थे। उन्होंने अपने संबोधन में पार्टी उम्मीदवार मेट्रो मैन ई. श्रीधरन के पक्ष में मतदान की अपील की। श्रीधरन पलक्कड़ विधानसभा सीट के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार हैं। मोदी ने कहा कि यहां कई बार वामदल सत्ता में रहे, लेकिन उनके नेता अब भी ऐसा आचरण करते हैं जैसे छुटभैये गुंडे हों। उनकी नजरों के सामने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को मारा-पीटा जाता है। राजनीति में यह अच्छी बात नहीं है। अंग्रेजी में दिए अपने संबोधन में नरेन्द्र मोदी ने कहा कि वह विधानसभा चुनाव को लेकर राज्य की जनता से भाजपा के लिए आशीर्वाद मांगने आए हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह जुदास ने थोड़ी सी चांदी के लिए ईसा मसीह को धोखा दिया था। ठीक उसी तरह, एलडीएफ ने कुछ सोना पाने के लिए केरल के साथ धोखा किया है।

सत्ता के लिए साथ चचुनाव लड़ रहे हैं विपक्षी

मोदी ने वामदल और कांग्रेस को लेकर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और वामदल एक साथ चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि केरल में वे आमने-सामने ताल ठोंक रहे हैं और एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केरल के लिए अब बदलाव का समय है। केरल के लिए भाजपा की योजना आगे बढऩे की है। यही कारण है कि राज्य का पेशेवर समुदाय भाजपा का समर्थन कर रहा है। मोदी ने कहा कि केरल में अब तेज (एफएएसटी-फास्ट) विकास का वक्त आ गया है। उन्होंने एफएएसटी का अर्थ बताते हुए कहा, एफ का आशय मत्स्य और उर्वरकों से है, ए कृषि और आयुर्वेद, एस कौशल विकास और सामाजिक न्याय के लिए और टी का तात्पर्य पर्यटन और तकनीक से है।

सरकार ने किसानों के लिए कई कदम उठाए

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने कृषि विकास औऱ किसानों के हित के लिए कई कदम उठाए हैं। पूर्ववर्ती सरकारों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में बढ़ोतरी का वादा तो किया, किंतु उस पर अमल नहीं किया। लेकिन मौजूदा सरकार ने एमएसपी बढ़ाने का काम किया है। प्रधानमंत्री ने देश के विकास में मेट्रोमैन श्रीधरन की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने भारत को आधुनिक बनाने में और बेहतर संपर्क व्यवस्था तैयार करने में शानदार काम किया है। श्रीधरन ऐसे व्यक्ति हैं, जिसे समाज का हर व्यक्ति पसंद करता है और केरल के विकास के लिए उन्होंने खुद को समर्पित कर दिया है। इससे पूर्व, श्रीधरन ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने पलक्कड़ के विकास के लिए एक मास्टर प्लान तैयार किया है, जिसके तहत 24 घंटे पानी की आपूर्ति, सीवर लाइन और पांच वर्षों में 25 लाख पौधारोपण कर इस इलाके को हरियाली से भर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here