Home खास ख़बरें भाई के साथ पढ़ाई करने भोपाल आई युवती ने फांसी लगाकर दी...

भाई के साथ पढ़ाई करने भोपाल आई युवती ने फांसी लगाकर दी जान, शराब नहीं मिला तो युवक ने पी लिया सेनेटाईजर

50
0

नशामुक्ति केंद्र में भर्ती युवक की मौत
भोपाल। बीते चौबीस घंटे में राजधानी भोपाल में चार लोगों की अलग-अलग कारणों से मौत हो गई है। एक नशे के आदी युवक को नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती कराया गया था, जहां संदिग्ध परिस्थिति में कल शाम को उसकी मौत हो गई है। वहीं शाहपुरा में शराब नहीं मिलने पर एक युवक ने जहरीला पदार्थ पीकर आत्महत्या कर ली है। परिजनों को आशंका है कि उसने सेनेटाईजर पीया है। वहीं भाई के साथ कॉलेज की पढ़ाई करने भोपाल आई एक युवती ने कल सुसाइड नोट लिखकर फांसी लगा ली है। पुलिस ने सभी मामलों में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। कोलार थाना प्रभारी ने बताया कि भोपाल निवासी जॉन टोप्पो पिता टोप्पो (30) नशे का आदी था। परिजनों ने उसके नशे की आदत छुड़वाने के लिए बहुत परेशान था। उसकी हालत बिगडऩे के काद उसे नशा मुक्ति केंद्र में रखा गया था। लेकिन मुक्ति केंद्र में नशा नहीं मिलने से उसकी हालत बिगड़ती चली गई। कल शाम को उसे बेहोशी की हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया है।


शराब नहीं मिला हो जहरीला पदार्थ पी लिस
वहीं शाहपुरा थाना क्षेत्र के लक्ष्मी परिसर में परिवार के साथ रहने वाले 35 वर्षीय आशीष चौधरी पुत्र चेतराम ने कल दिन में जहरीला पदार्थ पी लिया था। आशीष को उल्टियां होने पर परिजनों को पता चला कि उसने कुछ जहरीला पदार्थ पी लिया है। इसके बाद परिजन उसे एक निजी अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां कुछ घंटे इलाज के बाद उसकी मौत हो गई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि वह शराब बहुत पीता था। कुछ दिनों से उसे शाराब नहीं मिल पा रही थी। परिजनों ने आशंका जताई है कि हो सकता है कि शराब नहीं पीने पर उसने सेनेटाईजर पी लिया हो। आशीष की मौत क्या पीने से हुई है, इसका खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद होगा। आज उसका पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। इधर कल दिन में छोला थाना क्षेत्र स्थित पुल पातरा के पास रेलवे पटरी पर मिली युवक की लाश की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पुलिस की जांच में पता चला है कि युवक ट्रेन से ही गिरा है।

मौत की जिम्मेदार मैं स्वयं
मिसरोद पुलिस के अनुसार 19 वर्षीय दीपिका राजपूत मूलत: बाहर की रहने वाली है। वह मिसरोद स्थित स्नेह नगर में बड़े भाई के साथ किराये के मकान में रहती थी। दीपिका का बड़ा भाई भी भोपाल में पढ़ाई करता है। दीपिका का एडमिशन भी एक कॉलेज में था। कल दिन में भाई कीं गया हुआ था। शाम करीब छह बजे घर पहुंचा तो दीपिका कमरे में फांसी के फंदे पर लटकी हुई थी। मिसरोद थाने के एसआई राजेंद्र यादव ने बताया कि दीपिका के पास से एक चार लाइन का सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें लिखा है कि अपनी मौत की जिम्मेदार मैं स्वयं हूं। पुलिस आज उसका पोस्टमार्टम कराना शुरू कर दिया है। उसके परिजन भी भोपाल आ रहे हैं। पुलिस ने मृतका का मोबाइल जब्त कर जांच शुरू कर दी है। हालांकि सुसाइड नोट से आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।

Previous articleविराट की आरसीबी का आइपीएल में सफर खत्म, केकेआर ने क्वालीफायर 2 में जगह बनाई
Next articleभाई के हत्या की चश्मदीक गवाह महिला को बदमाश ने मारी गोली, गवाही नहीं देने आरोपी बना रहे थे दबाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here