दिल्ली की अदालत ने आफताब को भेजा 13 दिन की न्यायिक हिरासत में, अब जाएगा तिहाड़ जेल

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp
  • श्रद्धा वालकर हत्याकांड मामले में दिल्ली पुलिस ने शनिवार को आरोपित आफताब पूनावाला को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये साकेत कोर्ट में पेश किया।
  • सुनवाई के दौरान कोर्ट ने आफताब को 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का फैसला सुनाया।
    नई दिल्ली ।
    लिव इन पार्टनर श्रद्धा वालकर की हत्या के आरोपित आफताब अमीन पूनावाला को साकेत कोर्ट ने 13 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया है। अब उसे तिहाड़ जेल में रखा जाएगा। इस बीच आफताब का नार्को टेस्ट सोमवार (28 नवंबर) को होने की बात सामने आ रही है, लेकिन इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। इससे पहले शनिवार को दोपहर बाद पुलिस ने आफताब को दक्षिण दिल्ली स्थित साकेत कोर्ट में पेश किया, सुनवाई के दौरान कोर्ट ने आरोपित को न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया। अब वह तिहाड़ जेल में रहेगा। दरअसल, साकेत कोर्ट के मेट्रोपालिटन मजिस्ट्रेट अविरल शुक्ला ने 22 नवंबर को आरोपित आफताब की पुलिस रिमांड को चार दिन और बढ़ाई थी, जो शनिवार को खत्म हो गई। इस बीच आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट अधूरा है तो उसका नार्को टेस्ट भी होना है, ऐसे में दिल्ली पुलिस ने रिमांड बढ़ाने की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने नामंजूर कर दिया। उधर, श्रद्धा हत्याकांड में आरोपित आफताब पूनावाला का प्रतिनिधित्व कर रहे वकील ने भी कोर्ट में सुनवाई के दौरान पुलिस रिमांड बढ़ाने का विरोध किया। वहीं, पुलिस ने शुक्रवार को आशंका जता दी थी कि कुल 14 दिनों की पुलिस रिमांड के बाद अब आरोपित आफताब को न्यायिक हिरासत में भेजा जा सकता है। इस बीच सोमवार को नार्को टेस्ट होना है, ऐसा कहा जा रहा है। बता दें कि साकेत कोर्ट की मेट्रोपालिटन मजिस्ट्रेट विजयश्री राठौड़ ने आरोपित आफताब का नार्को टेस्ट व पालीग्राफ टेस्ट कराने का आदेश दिया था।
    18 मई को हुई थी श्रद्धा की हत्या
    गौरतलब है कि दिल्ली के छतरपुर इलाके में किराये के एक घर में आफताब ने अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा वालकर की हत्या इसलिए कर दी थी, क्योंकि वह शादी के लिए लगातार दबाव बना रही थी। 18 मई 2022 को हत्या के बाद आफताब ने श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े किए और एक-एक कर महरौली और गुरुग्राम के जंगलों के अलावा मैदानगढ़ी स्थित तालाब में फेंकता रहा।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News