Home खास ख़बरें नौसेना में जल्द शामिल होंगे कई खूबियों वाले रोमियो हेलीकॉप्टर

नौसेना में जल्द शामिल होंगे कई खूबियों वाले रोमियो हेलीकॉप्टर

12
0
  • अमेरिका के साथ 16,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का हुआ है सौदा
  • नौसेना को जुलाई में मिलेंगे तीन हेलीकॉप्टर
  • प्रशिक्षण लेने के लिए अमेरिका पहुंचे भारतीय पायलट
  • मल्टी-मोड रडार से लैस हेलीकॉप्टर रात में भी भर सकेगा उड़ान
  • हेलफायर मिसाइल, टारपीडो सहित अन्य घातक हथियारों से लैस
  • पनडुब्बियों और जहाजों को ढूंढने में माहिर है रोमियो
  • पनडुब्बी या जंगी जहाज से निपटने में भी सक्षम

नई दिल्ली।

दस साल से ज्यादा समय के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार भारतीय नौसेना को अब जल्द ही कई खूबियों से भरा रोमियो हेलीकॉप्टर मिलने वाला है। जानकारी के मुताबिक जुलाई के महीने में अमेरिका भारतीय नौसेना को एमएच-60 रोमियो हेलीकॉप्टर की पहले खेप सौंप देगा।

भारत के जाबांज पायलटों का पहला बैच इन हेलीकॉप्टरों के संबंध में जरूरी प्रशिक्षण लेने के लिए अमेरिका भी पहुंच चुका है। भारत और यूएस ने एमएच-60 रोमियो हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए 16,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की डील पर हस्ताक्षर किये थे। यह डील साल 2020 में किया गया था।

भारतीय पायलटों का एक बैच ट्रेनिंग के लिए यूएस पहुंच चुका है और जुलाई में तीन हेलीकॉप्टर हमें मिल जाएंगे। पायलटों की ट्रेनिंग पहले फ्लोरिडा में होगी उसके बाद वो कैलिफोर्निया स्थित सैन डियागो जाएंगे। अगर बात इस बेहतरीन हेलीकॉप्टर की विशेषताओं की करें तो यह हेलीकॉप्टर विपरित परिस्थितियों में दुश्मनों के छक्के छुड़ाने में माहिर है। यह हेलीकॉप्टर मल्टी-मोड रडार से लैस होगा। इसके अलावा इसमें रात में देख सकने वाले डिवाइस लगे होंगे।

यह हेलीकॉप्टर हेलफायर मिसाइल, टारपीडो और अन्य घातक हथियारों से भी लैस होगा। इस हेलीकॉफ्टर को मुख्य रूप से सबमैरीन और जहाजों को ढूंढ निकालने के लिए डिजायन किया गया है। समुद्र में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने में भी इस हेलीकॉप्टर को महारत हासिल है। रोमियो हेलीकॉप्टर किसी भी सबमरीन या जंगी जहाज से निपटने में सक्षम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here