Home खास ख़बरें समीक्षा बैठक: 3 माह तक ऑक्सीजन व वैक्सीन के आयात पर कस्टम...

समीक्षा बैठक: 3 माह तक ऑक्सीजन व वैक्सीन के आयात पर कस्टम ड्यूटी नहीं, प्रधानमंत्री ने रेवेन्यू डिपार्टमेंट को सौंपा काम

56
0

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के कारण फैली महामारी के घातक और जानलेवा समस्या के समाधान के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार बैठकें कर रहे हैं। इस क्रम में शनिवार को उन्होंने वरिष्ठ मंत्रियों व अधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें उन्होंने अहम फैसला लेते हुए बताया कि अगले तीन माह तक कोविड वैक्सीन व ऑक्सीजन के आयात पर किसी तरह की कस्टम ड्यूटी नहीं लागू की जाएगी। साथ ही इसपर लगने वाले स्वास्थ्य सेस भी नहीं लागू होंगे। इसे सुनिश्चित करने का काम उन्होंने रेवेन्यू डिपार्टमेंट को सौंप दिया है। बता दें कि इस बैठक में वित्त मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, कॉमर्स व इंडस्ट्री मंत्री, पीएम के प्रधान सचिव, नीति आयोग के सदस्य, डॉक्टर गुलेरिया और रेवेन्यू डिपार्टमेंट के सचिवों ने हिस्सा लिया।

प्रधानमंत्री मोदी ने देश में ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाने के लिए उठाए गए कदमों की समीक्षा के लिए बैठक की। उन्होंने इस पर जोर दिया कि मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के साथ घर और अस्पतालों में मरीज़ों की देखभाल के लिए जरूरी उपकरण भी उपलब्ध कराने की तत्काल आवश्यकता है। प्रधानमंत्री मोदी ने इस बात पर जोर दिया है कि संक्रमित मरीजों के लिए घरों व अस्पतालों में जरूरी मेडिकल उपकरणों मेडिकल ग्रेड के ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित कराई जाए। इसके बाद रेवेन्यू डिपार्टमेंट ने इस काम के लिए कस्टम के ज्वाइंट सेक्रेटरी गौरव मसलदान को नोडल ऑफिसर के तौर पर नियुक्त किया।

पिछले कुछ दिनों के दौरान भारत सरकार ने महामारी से संघर्ष के लिए कई कदम उठाए हैं ताकि ऑक्सीजन व मेडिकल सामानों की आपूर्ति व्यवस्था उचित हो सके। एयरफोर्स के विमानों से ऑक्सजीन टैंक सिंगापुर से मंगाए जा रहे हैं। इसके अलावा देश के विभिन्न राज्यों के बीच भी ऑक्सीजन टैंकों को ले जाने के लिए उड़ानों का उपयोग हो रहा है ताकि अधिक समय न लगे। इसी तरह शुक्रवार को प्रधानमंत्री ने गरीबों के लिए मई -जून में मुफ्त अनाज देने का फैसला किया।

प्रधानमंत्री ने सभी मंत्रालयों व विभागों को इसके लिए काम करने की आवश्यकता बताते हुए कहा कि यह फैसला लिया गया है कि ऑक्सीजन व ऑक्सीजन से संबंधित सभी उपकरणों के आयात पर 3 माह के लिए किसी तरह की कस्टम व सेस से छूट रहेगी। बता दें कि घातक और जानलेवा कोरोना वायरस संक्रमण के कारण फैली महामारी के चपेट में देश की जनता को अस्पताल में जगह नहीं मिल रही यहां तक की सांस लेने के लिए ऑक्सीजन की किल्लत हो गई है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में देश भर में 3.40 लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए। हालांकि कोरोना वायरस संक्रमण से 2.19 लाख से अधिक लोग स्वस्थ हुए और मृत्यु दर घटकर 1.14% हो गई।

Previous articleकोरोना: पीएम मोदी की बड़ी बैठक, अगले 3 महीने तक वैक्सीन, ऑक्सीजन के आयात पर कस्टम ड्यूटी हटाने का फैसला
Next articleजयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 20 मरीज की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here