Home खास ख़बरें आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्काट मारिसन के साथ प्रधानमंत्री मोदी की द्विपक्षीय बैठक जारी

आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्काट मारिसन के साथ प्रधानमंत्री मोदी की द्विपक्षीय बैठक जारी

18
0

वाशिंगटन। आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्काट मारिसन के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की द्विपक्षीय बैठक चल रही है। बैठक में प्रधानमंत्री मोदी के साथ विदेश मंत्री एस. जयशंकर व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद हैं। यह बैठक वाशिंगटन डीसी के होटल विलार्ड इंटरकान्टिनेंटल में आयोजित की गई है।

अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ बैठक

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी की भारतीय मूल की अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ द्विपक्षीय बैठक होनी है। उपराष्ट्रपति के समारोह कार्यालय में बैठक भारत समयानुसार में शुक्रवार 12.45 बजे होगी। कमला हैरिस और प्रधानमंत्री मोदी के बीच अब तक केवल फोन माध्यम से बातचीत की हुई है। हालांकि उपराष्ट्रपति बनने के तुरंत बाद उन्होंने कई विश्व नेताओं से बात की थी, उन्होंने जून में ही प्रधानमंत्री मोदी के साथ फोन पर बातचीत की थी, जब उन्होंने राष्ट्रपति जो बाइडन के भारत से टीके भेजने की पेशकश पर चर्चा की थी।

जापानी प्रधानमंत्री से भी करेंगे मुलाकात

प्रधानमंत्री मोदी जापान के पीएम योशिहिदे सुगा के साथ भी विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। जापान और आस्ट्रेलिया भी क्‍वाड ग्रुप का हिस्सा हैं। भारत और अमेरिका भी क्‍वाड में शामिल हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 से 25 सितंबर तक अमेरिका के दौरे पर हैं। उनकी मुलाकात जो बाइडन के साथ भी होगी।

पांच कंपनियों के ग्लोबल सीईओ से मुलाकात

व्यापक वैश्विक रणनीति के लिए गुरुवार को अमेरिका पहुंचे नरेंद्र मोदी ने पहले दिन पांच क्षेत्रों की प्रमुख अमेरिकी कंपनियों के सीईओ से मुलाकात की। इनमें क्वालकाम, एडोब, फ‌र्स्ट सोलर, जनरल एटोमिक्स और ब्लैकस्टोन शामिल हैं। इनमें एडोब के सीईओ शांतनु नारायण और जनरल एटोमिक्स के सीईओ विवेक लाल भारतीय-अमेरिकी हैं। तीन अन्य सीईओ में क्वालकाम के क्रिस्टिआनो ई. एमोन, फ‌र्स्ट सोलर के मार्क विडमार और ब्लैकस्टोन के स्टीफन ए. स्वार्जमैन शामिल हैं। नारायण से मुलाकात भारत सरकार की सूचना प्रौद्योगिकी और डिजिटल क्षेत्र में प्राथमिकता को दर्शाती है।

जनरल एटोमिक्स के सीईओ से मुलाकात अहम

जनरल एटोमिक्स के सीईओ लाल से मुलाकात इसलिए अहम है क्योंकि उनकी कंपनी सैन्य ड्रोन तकनीक के मामले में अग्रणी है और सैन्य ड्रोन के उत्पादन में दुनिया की शीर्ष कंपनी है। भारत अपनी तीनों सेनाओं के लिए बड़ी संख्या में ड्रोन खरीदने की प्रक्रिया में है। क्वालकाम के क्रिस्टिआनो से मुलाकात भी काफी अहम है क्योंकि भारत 5जी तकनीक को सुरक्षित बनाने पर जोर दे रहा है। यह कंपनी वायरलेस तकनीक से जुड़े सेमीकंडक्टर और साफ्टवेयर बनाती है।

भारत की कोशिश क्वालकाम को देश में बड़े निवेश के लिए आकर्षित करने की है। ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए भारत सौर ऊर्जा के इस्तेमाल की दिशा में बड़े कदम उठा रहा है। इस लिहाज से फ‌र्स्ट सोलर के सीईओ मार्क विडमार से प्रधानमंत्री की मुलाकात के खास मायने हैं। उनकी कंपनी फोटोवोल्टिक (पीवी) सोलर साल्यूशंस की अग्रणी वैश्विक प्रदाता है। वहीं ब्लैकस्टोन दुनिया की अग्रणी निवेश कंपनी है।

कोरोना की दूसरी लहर के बाद पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी की पहली बड़ी विदेश यात्रा है। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी 24 सितंबर को संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी गुरुवार सुबह भारतीय समयानुसार करीब साढ़े तीन बजे जब वाशिंगटन पहुंचे, तब वहां पर मौजूद भारतीय समुदाय के लोगों ने जोरदार स्वागत किया। पीएम मोदी ने सभी लोगों का शुक्रिया कहा, साथ ही सोशल मीडिया पर तस्वीरें भी साझा की।

इस मौके पर प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनियाभर में प्रवासी भारतीयों ने जिस तरह अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है, वह सराहनीय है। हमारे लोग हमारी ताकत हैं। प्रधानमंत्री मोदी का विमान बुधवार को जैसे ही वाशिंगटन के एंड्रयू ज्वाइंट एयरफोर्स बेस पर उतरा, बाइडन प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों और अमेरिका में भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने उनका स्वागत किया।

Previous articleआइपीएल 2021: मुंबई की यूएई लेग में लगातार दूसरी हार, केकेआर के सामने रोहित दिखे बेबस
Next articleघर की छत पर हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से प्रधान आरक्षक की मौत, MT शाखा में थे पदस्थ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here