इंदौर में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट बीए.1 व बीए.2 के मरीज मिले, बीए.2 अब कि सबसे तेज फैलने वाला स्टेन माना जा रहा

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

प्रदेश में 10585 नए पॉजिटिव मिले, 6 की मौत


भोपाल। प्रदेश में कोरोना संक्रमण को लेकर चिंता बढ़ाने वाली खबर आ रही है। जीनोम सिक्वेंसिंग जांच में कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट के दो उप वैरिएंट भी पाए गए हैं। ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट बीए.1 व बीए.2 के मरीज इंदौर में भी मिले हैं। बीए.1 के चार और बीए.2 के 12 संक्रमित अब तक मिल चुके हैं। हालांकि कुछ संक्रमित स्वस्थ भी हो चुके हें, लेकिन जिन दो लोगों में बीए.2 सब वैरिएंट मिला है, वे अस्पताल में भर्ती हैं और उनके फेफड़े में 40 प्रतिशत तक इंफेक्शन मिला है। रिपोर्ट के अनुसार ओमिक्रॉन के बीए.2-सब वैरिएंट के 12 मरीज मिले हैं, इनमें 6 बच्चे भी हैं। ओमिक्रॉन बीए.1 के भी चार संक्रमित मिले हैं, लेकिन बीए.2 सबसे अधिक तेजी से फैलने वाला स्टेन बताया जा रहा है।

ये भी पढ़ें:  मातृभूमि की सेवा में नहीं छोड़ी कसर, इन 8 सालों में नहीं झुकने दिया सिर, गुजरात में बोले मोदी

ओमिक्रॉन का बीए.2 स्ट्रेन सबसे ज्यादा तेजी से फैलता है। बीए.2 से संक्रमित पेशेंट के फेफड़ों में इंफेक्शन भी सबसे अधिक मिल रहा है। इंदौर के एक निजी अस्पताल में भर्ती17 साल के संक्रमित के फेफड़े में 40 प्रतिशतत तक संक्रमण मिला है। कोरोना की तीसरी लहर में अब तक संक्रमण फेफड़ों पर असर नहीं कर रहा था, लेकिन अब ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट से चिंता बढ़ गई है। ज्ञात हो कि देश में बीए.2 के 500 के करीब मामले सामने आ चुके हैं।


इंदौर में स्थित, भोपाल में बढ़त


सोमवार को प्रदेश में कोरोना के 10585 नए पॉजिटिव मिले हैं, वहीं छह लोगों की संक्रमण से मौत भी हो गई है। इंदौर में सबसे अधिक 2665 संक्रमित मिले हैं, जबकि भोपाल में 2128 नए संक्रमित मिले हैं। भोपाल में संक्रमण बढ़ रहा हे, जबकि इंदौर में सोमवार को स्थित रहा।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News