Home खास ख़बरें 12 राज्यों में मंडराया ऑक्सीजन का संकट, 100 नए अस्पतालों में लगेंगे...

12 राज्यों में मंडराया ऑक्सीजन का संकट, 100 नए अस्पतालों में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

12
0
  • विदेश में मंगाई जा रही 50 हजार मी. टन ऑक्सीजन लाने के प्रयास तेज

नई दिल्ली। कोरोना मरीजों के इलाज के लिए सबसे अधिक जरूरी ऑक्सीजन की देश भर में किल्लत होने लगी है। देश के दर्जर भर राज्यों में ऑक्सीजन का संकटन मंडरा रहा है। देशव्यापी संकट को देखते हुए केंद्र सरकार ने एक दिन पहले ही विदेशों से 50 हजार मीट्रिक टन ऑक्सीजन मंगवाने का निर्णय लिया है। उक्त ऑक्सीजन को जल्द भारत लाने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं।

प्रधानमंत्री राहत कोष से लगेंगे प्लांट

शुक्रवार को केंद्र सरकार के इंपॉवर्ड ग्रुप-2 की बैठक में यह फैसला लिया कि पीएम केयर्स फंड की मदद से देशभर में 100 नए अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के अस्पतालों में ऑक्सीजन के संकट को देखते हुए अफसरों के साथ बैठक की है। उन्होंने मेडिकल ऑक्सीजन प्रोडक्शन की क्षमता और अन्य मेडिकल इक्यूपमेंट्स की उपलब्धता को लेकर अफसरों को निर्देश दिए हैं।

इन राज्यों में ऑक्सीजन का ज्यादा संकट

जिन राज्यों में ऑक्सीजन को लेकर संकट है उनमें महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान शामिल हैं। महाराष्ट्र में मेडिकल ऑक्सीजन की डिमांड राज्य में कुल ऑक्सीजन मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी से भी ज्यादा हो गई है।
प्रेशर स्विंग एडसॉरप्शन (पीएसए) वाली 100 अस्पतालों की पहचान करना। ऐसे अस्पताल खुद की ऑक्सीजन बनाने में सफल रहते हैं, जिससे मेडिकल ऑक्सीजन की नेशनल ग्रिड पर बोझ कम होता है। प्रधानमंत्री राहत कोष ने ऐसे 162 पीएसए प्लांट बनाने के लिए फंड जारी किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here