Home खास ख़बरें कोरोना महामारी के बढ़ता प्रकोप: ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन की भारत यात्रा रद्द

कोरोना महामारी के बढ़ता प्रकोप: ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन की भारत यात्रा रद्द

10
0

नई दिल्ली। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की 25 अप्रैल, 2021 से शुरू होने वाली भारत यात्रा रद्द कर दी गई है। भारत में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप और बेहद खराब स्थिति को देखते हुए यह फैसला किया गया है। इस साल यह दूसरा मौका है जब जॉनसन की भारत यात्रा टाली गई है।

द्विपक्षीय रिश्तों की समीक्षा पर दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की होगी वर्चुअल बैठक

इसके पहले वह इसी वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजकीय मेहमान बनने को हामी भर चुके थे, लेकिन उसी समय ब्रिटेन कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में आ गया था और उनकी यात्रा रद्द हो गई थी। वैसे दोनों देशों की तरफ से बताया गया है कि अप्रैल के अंत में दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच एक वर्चुअल बैठक होगी, जिसमें द्विपक्षीय रिश्तों की समीक्षा की जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी की पुर्तगाल यात्रा को लेकर भी संशय

कोरोना ने पिछले एक पखवाड़े में जिस तरह से समूचे देश में कोहराम मचाया है, उसे देखते हुए कूटनीतिक यात्राओं को लेकर नए सिरे से चिंता पैदा हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी अगले महीने की शुरुआत में पुर्तगाल की यात्रा पर जाना है, जहां भारत और यूरोपीय संघ के बीच लंबित शिखर बैठक होनी तय की गई है। मोदी की इस दौरान फ्रांस की संक्षिप्त यात्रा पर जाने की भी तैयारी चल रही है। लेकिन देश में कोरोना की स्थिति को देखते हुए मोदी की इस यात्रा को लेकर संशय पैदा हो गया है।

जापान के प्रधानमंत्री का भारत आना मुश्किल

इसी तरह से अप्रैल में जापान के पीएम के भी भारत आने को लेकर दोनों देशों के बीच संपर्क बना हुआ था। इसकी भी संभावना खत्म है। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए विदेश मंत्रालय की तरफ से आयोजित होने वाले रायसीना डायलाग (13 से 16 अप्रैल) का स्वरूप वर्चुअल कर दिया गया था। इसकी वजह से कम-से-कम दो दर्जन देशों के प्रतिनिधियों का भारत आना रद्द किया गया था। इसमें आस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री की यात्रा भी शामिल है।

ब्रिटेन के पीएम अगले हफ्ते भारत की यात्रा पर नहीं जाएंगे

जॉनसन की यात्रा को रद्द करने की घोषणा करते हुए ब्रिटेन के पीएम कार्यालय ने कहा, कोरोना वायरस से उत्पन्न स्थिति की गंभीरता को देखते हुए दोनों देशों ने आपसी विमर्श से फैसला किया है कि ब्रिटेन के पीएम अगले हफ्ते भारत की यात्रा पर नहीं जाएंगे। इसकी जगह दोनों देशों के प्रधानमंत्री वर्चुअली बात करेंगे, ताकि भारत व ब्रिटिश के भविष्य की साझीदारी की महत्वाकांक्षी योजना का शुभारंभ कर सकें। वे लगातार संपर्क में रहेंगे और कोशिश करेंगे कि इस वर्ष के अंत तक व्यक्तिगत तौर पर एक दूसरे से मुलाकात कर सकें।

रिश्तों को सर्वोच्च प्राथमिकता

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने भी ऐसा ही बयान दिया है और कहा है कि दोनों पक्ष एक दूसरे के साथ अपने रिश्तों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हैं। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी ब्रिटिश पीएम की भारत यात्रा रद्द होने की पुष्टि की और कहा कि भविष्य में दोनों देशों के बीच और ज्यादा संपर्क स्थापित होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here