Home खास ख़बरें प्रधानमंत्री मोदी का अगले महीने पुर्तगाल और फ्रांस दौरा रद्द हो सकता...

प्रधानमंत्री मोदी का अगले महीने पुर्तगाल और फ्रांस दौरा रद्द हो सकता है; EU समिट में वर्चुअली शामिल हो सकते हैं

31
0

नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुर्तगाल और फ्रांस का दौरा रद्द हो सकता है। भारत में कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक होती जा रही है। इसका असर PM मोदी के विदेश दौरों पर भी हो सकता है। सूत्रों के हवाले से न्यूज एजेंसी ने बताया कि अगले महीने मोदी का फ्रांस और पुर्तगाल का दौरा खटाई में पड़ सकता है। भारत में इस वक्त हर दिन ढाई लाख से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं, जिसकी वजह से अलग-अलग देश भारत से आने वाले यात्रियों पर बैन लगा रहे हैं। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, प्रधानमंत्री के कार्यक्रम पर आखिरी फैसला अब तक नहीं लिया गया है। हालांकि विदेश मंत्रालय की ओर से प्रधानमंत्री के दौरे की आधिकारिक घोषणा नहीं की थी, लेकिन इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गई थीं। ऐसे में मोदी EU समिट में वर्चुअली शामिल हो सकते हैं।
कोरोना को लेकर मीटिंग्स में व्यस्त मोदी
रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में कोरोना को लेकर पीएम मोदी लगातार बैठकों में व्यस्त हैं, जिसका असर उनके विदेश दौरे पर पड़ सकता है। अगले महीने 8 मई को पीएम मोदी का पुर्तगाल दौरा प्रस्तावित था। वहीं वे द्विपक्षीय वार्ता के लिए फ्रांस भी जाने वाले थे, जहां वो फ्रेंच राष्ट्रपति से मुलाकात करने वाले थे।
पुर्तगाल में भारत-EU समिट
प्रधानमंत्री मोदी यूरोपीयन यूनियन के साथ होने वाली बैठक में भी वर्चुअल ही शामिल होंगे। पीएम मोदी पुर्तगाल में 8 मई को इंडिया-ईयू समिट में हिस्सा लेने वाले थे। लेकिन, पुर्तगाल मीडिया को डिप्लोमेटिक सूत्रों ने बताया कि हम यूरोपीयन यूनियन और भारत सरकार के साथ इस समिट को वर्चुअल करवाने पर विचार कर रहे हैं।
जून में G7 समिट में हिस्सा लेंगे
हालात सुधरे तो प्रधानमंत्री मोदी जून में ब्रिटेन जा सकते हैं। यहां वे G7 समिट में हिस्सा लेंगे। कॉर्नवाल में होने वाली समिट के लिए मोदी को ब्रिटेन ने न्यौता भेजा था। G7 में ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, अमेरिका और यूरोपियन यूनियन शामिल हैं।
ब्रिटिश PM का भारत दौरा टला
भारत में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपना भारत दौरा टाल दिया है। अब वह कुछ दिनों के बाद भारत आने का प्लान बना सकते हैं। जॉनसन 25 अप्रैल को भारत आने वाले थे, लेकिन भारत में कोरोना की वजह से बने मौजूदा हालात को देखते हुए इसे टाल दिया गया है। इससे पहले जॉनसन को गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) पर चीफ गेस्ट के तौर पर न्योता भेजा गया था। लेकिन उस वक्त ब्रिटेन में महामारी की वजह से उन्हें अपना दौरान रद्द करना पड़ा था।

Previous articleकोरोना के चलते अयोध्या सूनी, बॉर्डर सील होंगे; निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही मंदिर में एंट्री
Next articleसंकट के समय रक्षा मंत्री ने सेना और DRDO के चीफ से की बात, कहा- नागरिकों को उपलब्ध हो सभी सुविधा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here