Home उत्तर प्रदेश मुनव्वर राना का बेटा तबरेज लखनऊ से गिरफ्तार, चाचा को फंसाने के...

मुनव्वर राना का बेटा तबरेज लखनऊ से गिरफ्तार, चाचा को फंसाने के लिए रची खुद पर हमले की साजिश

35
0

लखनऊ, खुद पर गोली चलवाने वाले शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना को रायबरेली पुलिस ने बुधवार की शाम गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने तबरेज को लखनऊ के लालकुंआ से धरदबोचा। आपको बता दें कि 28 जून को तबरेज राना पर हाईवे पर हमला हुआ था। इस दौरान उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग भी की गई थीं। जब मामले की जांच पड़ताल की गई तो उसमें खुद ही हमले की साजिश रचने की बात सामने आई थी। तबरेज ने खुद को साजिश को आरोपी भी माना था। इस साजिश में तबरेज के अलावा चार अन्य आरोपी थी जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर पहले ही जेल भेज दिया था, लेकिन तब से तबरेज फरार चल रहा था। तबरेज की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने उसके करीबियों से भी पूछताछ की थी लेकिन उसका कहीं कोई पता नहीं चल सका था। बुधवार की शाम को तबरेज की गिरफ्तारी के बाद से पुलिस ने राहत की सांस ली है।

हमले के बाद तबरेज ने थाने में दर्ज करवाई थी एफआई आर

हाईवे पर हमले के बाद तबरेज राना ने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। तबरेज राना के वाहन पर गोलियों के निशान भी मिले थे। पुलिस की जांच में पता चला था कि अपने निजी स्वार्थों के लिए तबरेज ने खुद ही अपने ऊपर फायर कराया था। पुलिस ने गोली चलाने वाले शूटरों को भी गिरफ्तार किया था। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज व अन्य तथ्यों के आधार पर इसका खुलासा किया था। इसके बाद पुलिस ने तबरेज को इसी मामले में झूठ बोलने व षडयंत्र रचने के साथ ही अन्य धाराओं में आरोपी बनाया। पुलिस तबरेज की तलाश कर रही है वहीं दो जुलाई को तबरेज ने न्यायालय ने आत्मसमर्पण का प्रार्थना पत्र दिया था। जिस पर न्यायालय ने छह जुलाई की तिथि नियत की थी लेकिन नियत तिथि पर भी तबरेज न्यायालय में हाजिर नहीं हुए थे।

ऐसे सुलझाई पुलिस ने गुत्थी

तबरेज पर हमले की जब पुलिस ने जांच बिठाई तो पूरा मामला पानी की तरह साफ हो गया था। चाचा को फंसाने के लिए तबरेज ने खुद पर गोली चलवाई थी। पुलिस ने बताया था कि पूछताछ और सीसीटीवी फुटेज की जांच के आधार पर इस साजिश का पता चला था। जानकारी के अनुसार तबरेज ने अपने साथी हलीम और सुल्तान के साथ पूरी साजिश रची थी। तबरेज ने अपने चाचा को संपत्ति विवाद में फंसाने के लिए ये पूरा घटनाक्रम रचा था। पुलिस ने बताया था कि हलीम ने सतेंद्र और शुभम नाम के दो शूटर को फायरिंग के लिए भेजा था। उन्होंने बताया कि हलीम, सुल्तान, सतेंद्र और शुभम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इस दौरान उनके पास से पिस्टल और एक बाइक भी बरामद हुई थी।

Previous articleजर्मनी में पिज्जा बेच रहे अफगानिस्तान के पूर्व आईटी मंत्री
Next articleकोरोना टीकाकरण महाअभियान दूसरा चरण शुरू, मुख्यमंत्री ने कहा- यह जिंदगी का डोज, जरूर लें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here