Home » ‘मन की बात’ के 100 एपिसोड पूरे, प्रधानमंत्री बोले ‘मन की बात’ के मुद्दे जन आंदोलन बन गए

‘मन की बात’ के 100 एपिसोड पूरे, प्रधानमंत्री बोले ‘मन की बात’ के मुद्दे जन आंदोलन बन गए

देशभर के साथ विश्व के कई देशों में सुनी गई ‘मन की बात

मुख्यमंत्री पीपुल्स माल, वीडी शर्मा उज्जैन में सुनी ‘मन की बात’

भोपाल में 1500 स्थानों के साथ प्रदेश में 89 हजार स्थानों पर हुए आयोजन

नई दिल्ली/भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 100वें एपिसोड का आज प्रसारण किया गया। ‘मन की बात’ के लाइव प्रसारण के लिए देशभर में बूथ स्तर पर चार लाख सेंटर बनाए गए थे, जहां रेडियो कार्यक्रम को प्रसारित किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात के 100 वें एपिसोड में चरैवेति-चरैवेति यानी चलते रहो-चलते रहो-चलते रहो की बात कही। उन्होंने कहा कि आज हम इसी चरैवेति चरैवेति की भावना के साथ ‘मन की बात’ का 100वां एपिसोड पूरा कर रहे हैं।

हर एपिसोड में देशवासियों के सेवा और सामथ्र्य ने दूसरों को प्रेरणा दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ‘मन की बात’ के मुद्दे जन आंदोलन बन गए। एक तरह से ‘मन की बात’ का हर एपिसोड अगले एपिसोड के लिए जमीन तैयार करता है। ‘मन की बात’ हमेशा सद्भाावना, सेवा-भावना और कर्तव्य-भावना से ही आगे बढ़ा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेरा अटूट विश्वास है कि सामूहिक प्रयास से बड़े से बड़ा बदलाव लाया जा सकता है. इस साल हम जहां आजादी के अमृतकाल में आगे बढ़ रहे हैं। वहीं जी-20 की अध्यक्षता भी कर रहे हैं। यह भी एक वजह है कि एजुकेशन के साथ-साथ डाइवर्स ग्लोबल कल्चर्स को समृद्ध करने के लिए हमारा संकल्प और मजबूत हुआ है।

टूरिज्म तेजी से ग्रो कर रहा

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि आज देश में टूरिज्म बहुत तेजी से ग्रो कर रहा है। हमारे ये प्राकृतिक संसाधन हों, नदियां, पहाड़, तालाब या फिर हमारे तीर्थ स्थल हों, उन्हें साफ रखना बहुत जरूरी है। ये टूरिज्म इंडस्ट्री की बहुत मदद करेगा। पर्यटन में स्वच्छता के साथ-साथ हमने इन्क्रिडिबल इंडिया मूवमेंट की भी कई बार चर्चा की है। इस मूवमेंट से लोगों को पहली बार ऐसे कितनी ही जगहों के बारे में पता चला, जो उनके आस-पास ही थे।

मैं हमेशा ही कहता हूं कि हमें विदेशों में टूरिज्म पर जाने से पहले हमारे देश के कम से कम 15 टूरिस्ट डेस्टिनेशन पर जरूर जाना चाहिए और यह डेस्टिनेशन जिस राज्य में आप रहते हैं, वहां के नहीं होने चाहिए आपके राज्य के बाहर के होने चाहिए।

‘मन की बात’ कार्यक्रम नहीं आस्था व पूजा-व्रत है

प्रधानमंत्री ने कहा कि मेरे लिए मन की बात एक कार्यक्रम नहीं, आस्था, पूजा, व्रत है। जैसे लोग ईश्वर की पूजा करने जाते हैं। प्रसाद की थाल लाते हैं। मेरे लिए मन की बात ईश्वर रूपी जनता जनार्दन के चरणों में प्रसाद की थाल की तरह है। मन की बात मेरे मन की आध्यात्मिक यात्रा बन गया है। ‘मन की बात’ स्व से समष्टि की यात्रा है। अहं से वयं की यात्रा है। ये मैं नहीं तू ही संस्कार साधना है। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘मन की बात’ की रिकॉर्डिंग के समय कई बार भावुक भी हुआ। इसकी वजह से कई बार दोबारा रिकॉर्डिंग की गई।

कार्यक्रम ने मुझे लोगों ने दूर नहीं होने दिया

प्र्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस कार्यक्रम ने कभी मुझे आप लोगों से दूर नहीं होने दिया। जब मैं सीएम था, वहां लोगों से मिलना जुलना हो जाता था, लेकिन जब 2014 में दिली आया तो मैंने पाया कि यहां का जीवन बहुत अलग है। दायित्व अलग, सुरक्षा का तामझाम, समय की सीमा, शुरुआती दिनों में कुछ अलग महसूस होता था। 50 साल पहले मैंने अपना घर इसलिए नहीं छोड़ा था कि एक दिन अपने ही देश के लोगों से संपर्क ही मुश्किल हो जाएगा।

जो देशवासी मेरा सब कुछ है, मैं उनसे ही कट करके जी नहीं सकता था। मन की बात ने मुझे इस चुनौती का समाधान दिया, सामान्य मानवी से जुडऩे का रास्ता दिया. पदभार और प्रोटोकॉल, व्यवस्था तक ही सीमित रहा और जनभाव, कोटि-कोटि जनों से साथ, मेरे भाव, विश्व का अटूट अंग बन गया।

हर बार नवीनता दिखाई दी

पीएम मोदी ने कहा कि ‘मन की बात’ एक जन आंदोलन बन गया है. चाहे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम हो, स्वच्छता आंदोलन हो, खादी प्रेम हो या फिर प्रकृति की बात या आजादी का अमृत महोत्सव हो, जो भी ‘मन की बात’ कार्यक्रम से जुड़ा, वह जन आंदोलन बन गया। इसका हर एपिसोड खास रहा है। हर बार नए उदाहरण की नवीनता दिखाई दी। पीएम मोदी ने कहा कि ‘मन की बात’ कार्यक्रम में देश के कोने-कोने से लोग जुड़े, हर आयु वर्ग के लोग जुड़े।

‘Mann Ki Baat’ completes 100 episodes, PM says ‘Mann Ki Baat’ issues have become mass movement.

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd