देश को वैश्विक महाशक्ति बनने की दिशा में आगे बढ़ाएगा आईएनएस विक्रांत : वीडी शर्मा

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

भोपाल। स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत उन प्रयासों का नतीजा है, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने देश को सुरक्षा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर, सक्षम और सशक्त बनाने के लिए शुरू किए हैं। आईएनएस विक्रांत का नौसेना में शामिल होना देश को वैश्विक ताकत बनाने की दिशा में एक बड़ा कदम है, जिसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथसिंह तथा विक्रांत के डिजाइन और निर्माण से जुड़े वैज्ञानिकों, इंजीनियरों तथा तकनीशियनों का आभार जताता हूं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने शुक्रवार को आईएनएस विक्रांत को प्रधानमंत्री द्वारा नौसेना में शामिल किए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कही।

ये भी पढ़ें:  महाकाल लोकार्पण के पहले सीएम शिवराज ने दिया जनता के नाम दिया संदेश

प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि 75 प्रतिशत स्वदेशी तकनीक और उपकरणों से आईएनएस विक्रांत के निर्माण के साथ ही दुनिया के उन चार देशों में शामिल हो गया है, जो इतने विशाल विमानवाहक पोत को तैयार कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अपने सभी परीक्षणों में सफल होने के बाद आईएनएस विक्रांत को नौसेना में शामिल किया जाना उन लोगों को करारा जवाब है, जो प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान पर सवाल खड़े करते रहे हैं। यह बताता है कि अगर अवसर और उचित प्रोत्साहन मिले, तो भारतीय इंजीनियर्स और वैज्ञानिक दुनिया के किसी भी देश से पीछे नहीं हैं।

ये भी पढ़ें:  कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे ने किया नामाकंन

उन्होंने कहा कि इस विशाल और ताकतवर पोत के नौसेना में शामिल होने से हमारी नौसेना हिंद-प्रशांत क्षेत्र में मिल रही चुनौतियों का सामना और अधिक सक्षमता से कर सकेगी तथा तेजी से उभर रही एक सैन्य महाशक्ति के रूप में भारत का दबदबा सारी दुनिया में बढ़ेगा।

INS Vikrant will take the country forward towards becoming a global superpower: VD Sharma.

desh ko vaishvik mahaashakti banane kee disha mein aage badhaega aaeeenes vikraant : veedee sharma

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News