भारत को जीत के लिए चाहिए 49 रन, इंग्लैंड की दूसरी पारी 81 रन पर सिमटी

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

अहमदाबाद। टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट में दूसरे दिन ही पकड़ मजबूत कर ली है। दुनिया के सबसे बड़े नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 112 रन बनाए थे। इसके बाद भारत ने पहली पारी में 145 रन बनाए। जवाब में इंग्लिश टीम दूसरी पारी में 81 रन पर सिमट गई। इस लिहाज टीम इंडिया को मैच जीतने के लिए 49 रन का टारगेट मिला।
दूसरी पारी में इंग्लैंड के लिए बेन स्टोक्स ने सबसे ज्यादा 25 और कप्तान जो रूट ने 19 रन बनाए। टीम इंडिया के स्पिनर अक्षर पटेल ने 5 और रविचंद्रन अश्विन ने 4 विकेट झटके। एक विकेट वॉशिंगटन सुंदर को मिला।
इंग्लैंड ने पहले ही ओवर में 2 विकेट गंवाए
दूसरी पारी में इंग्लैंड की शुरुआत बेहद खराब रही। टीम ने पहले ही ओवर में बिना खाता खोले 2 विकेट गंवा दिए। स्पिनर अक्षर पटेल ने जैक क्राउली और जॉनी बेयरस्टो को क्लीन बोल्ड किया। इसके बाद अक्षर ने टीम को 19 रन पर तीसरा झटका दिया। डॉम सिबनी 7 रन बनाकर विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट हुए।
50 रन पर इंग्लैंड को चौथा झटका लगा। भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने बेन स्टोक्स को 25 रन पर LBW किया। अश्विन ने करियर में 11वीं बार स्टोक्स को शिकार बनाया। इसके बाद अक्षर ने कप्तान जो रूट को 19 रन पर LBW किया। यह इंग्लैंड टीम को 56 रन पर 5वां झटका रहा।
अश्विन सबसे तेज 400 टेस्ट विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज
भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने दूसरी पारी में अब तक 3 विकेट ले लिए हैं। उन्होंने 77वें टेस्ट में करियर के 400 टेस्ट विकेट पूरे कर लिए। अश्विन सबसे तेज 400 विकेट लेने वाले श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के बाद दूसरे गेंदबाज बन गए। मुरलीधरन ने 72वें टेस्ट में 400 विकेट पूरे किए थे। टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेजी से 400 विकेट तक पहुंचने का भारतीय रिकॉर्ड पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले के नाम था। कुंबले ने 85वें टेस्ट में 400 विकेट पूरे किए थे।
अक्षर एक डे-नाइट टेस्ट में सबसे ज्यादा 11 विकेट लेने वाले बॉलर
अक्षर पटेल एक डे-नाइट टेस्ट (दोनों पारी) में सबसे ज्यादा 11 विकेट लेने वाले दुनिया के पहले गेंदबाज बन गए हैं। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस और वेस्टइंडीज के देवेंद्र बीशू 10-10 विकेट ले चुके हैं। अक्षर लगातार 3 पारियों में 5 या इससे ज्यादा विकेट लेने वाले दुनिया के चौथे गेंदबाज बन गए हैं।
DRS विवाद
15वें ओवर की चौथी बॉल पर जो रूट को अंपायर ने LBW करार दिया था। इस पर रूट ने DRS (डिसिजन रिव्यू सिस्टम) ऑप्शन लिया। थर्ड अंपायर शम्सुद्दीन ने रूट को नॉटआउट दिया। उनका मानना था कि बॉल पहले बैट और फिर पैड पर लगी। हालांकि, कमेंटेटर सुनील गावस्कर ने कहा कि बॉल पहले बैट पर ही लगी होती तो रूट ने बिना देरी के DRS लेते। उन्होंने साथी खिलाड़ी से सलाह के बाद DRS लिया। ओवर अक्षर पटेल का था और रूट 16 रन पर खेल रहे थे।
अब तक 21 टेस्ट ही 2 दिन में खत्म हुए
अगर यह मैच आज ही खत्म हो जाता है तो यह टेस्ट इतिहास में सिर्फ 22वां मुकाबला रहेगा, जो दो दिन में खत्म होगा। भारत का सिर्फ एक टेस्ट दो दिन में खत्म हुआ है। भारत ने 2018 में अफगानिस्तान को बेंगलुरु टेस्ट में दो दिन में ही हरा दिया था। इंग्लैंड के 12 टेस्ट दो दिन में खत्म हुए हैं।
भारतीय टीम ने दूसरे दिन 46 रन बनाने में 7 विकेट गंवाए
टीम इंडिया ने दूसरे दिन 3 विकेट पर 99 रन से आगे खेलना शुरू किया था। टीम ने 46 रन बनाने में 7 विकेट गंवाए। अजिंक्य रहाणे (7 रन), रोहित शर्मा (66 रन), ऋषभ पंत (1), वॉशिंगटन सुंदर (0), अक्षर पटेल (0), रविचंद्रन अश्विन (17) और जसप्रीत बुमराह (1) पवेलियन लौट गए। जैक लीच ने रहाणे और रोहित को LBW किया।
कप्तान जो रूट ने ऋषभ पंत को कैच आउट कराया। इसके बाद रूट ने एक ही ओवर में सुंदर को क्लीन बोल्ड और अक्षर को कैच आउट कराया। इसके बाद अश्विन ने बड़े शॉट खेलकर स्कोर आगे बढ़ाया, लेकिन वे भी 17 रन बनाकर रूट के शिकार हुए।
लीच ने 4 और रूट ने 5 विकेट लिए
टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा ने 96 बॉल पर 66 रन की पारी खेली। उनके अलावा विराट कोहली ने 27 रन बनाए। इंग्लैंड के लिए स्पिनर जैक लीच ने 4 और जो रूट ने 5 विकेट लिए। कप्तान रूट पार्ट टाइम स्पिनर हैं। रूट ने टेस्ट करियर में पहली बार पारी में 5 विकेट हासिल किए। वे डे-नाइट टेस्ट में सबसे कम 8 रन देकर 5 विकेट लेने वाले पहले इंग्लिश बॉलर बन गए हैं।
भारतीय पिचों पर विदेशी टीम के पार्ट टाइम स्पिनर ने पहले भी कमाल दिखाया है। 2004 में मुंबई टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के लिए माइकल क्लार्क ने 9 रन देकर 6 विकेट लिए थे। हालांकि, उस मैच में भारतीय टीम ने जीत हासिल की थी।
37 साल बाद किसी इंग्लिश कप्तान ने 5 विकेट झटके
रूट 37 साल बाद एक पारी में 5 विकेट लेने वाले पहले इंग्लिश कप्तान बन गए हैं। इससे पहले जुलाई 1983 में बॉब विलिज ने यह कारनामा किया था। विलिज ने लीड्स टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक पारी में 35 रन देकर 5 विकेट झटके थे।
रोहित-कोहली ने टीम को संभाला
पहले दिन सधी शुरुआत के बाद टीम इंडिया ने लगातार 2 ओवर (15वें और 16वें) में 2 विकेट गंवा दिए थे। ओपनर शुभमन गिल 11 रन बनाकर आउट हुए। जोफ्रा आर्चर की बॉल पर जैक क्राउली ने उनका विकेट लिया। इसके बाद चेतेश्वर पुजारा खाता भी नहीं खोल सके और स्पिनर जैक लीच ने उन्हें LBW किया।
ओपनर रोहित शर्मा ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 100 बॉल पर 64 रन की पार्टनरशिप कर टीम को संभाला। पहला दिन खत्म होने से ठीक पहले कोहली 27 रन बनाकर जैक लीच की बॉल पर क्लीन बोल्ड हुए।
अक्षर-अश्विन ने 9 विकेट लेकर इंग्लैंड को समेटा
मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड को अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन ने 9 विकेट लेकर 112 रन पर ऑलआउट किया था। अक्षर को 6 और अश्विन को 3 विकेट मिले। अक्षर ने लगातार दूसरी पारी में 5 या उससे ज्यादा विकेट झटके। पिछले टेस्ट की दूसरी पारी में उन्होंने 5 विकेट लिए थे।
इंग्लैंड की खराब शुरुआत रही
इंग्लैंड की शुरूआत बेहद खराब रही थी। टीम ने 27 रन पर ही 2 विकेट गंवा दिए थे। 100वां टेस्ट खेल रहे तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने इंग्लैंड को पहला झटका दिया था। ओपनर डॉम सिबली 1 रन बनाकर आउट हुए। इशांत की बॉल पर स्लिप में रोहित शर्मा ने उनका कैच लिया।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent News

Related News