Home खास ख़बरें भारत ने भगोड़े मेहुल चोकसी के अपराधों का दस्तावेज विशेष विमान से...

भारत ने भगोड़े मेहुल चोकसी के अपराधों का दस्तावेज विशेष विमान से भेजा, प्रत्यर्पण पर एंटीगुआ में मचा राजनीतिक कोहराम

14
0

नई दिल्ली। पिछले साढ़े तीन साल से भारतीय जांच एजेंसियों की आंख में धूल झोंक रहे भगोड़े आर्थिक अपराधी मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण को लेकर भारत सरकार कोई भी कसर नहीं छोड़ रही है। चोकसी को पिछले हफ्ते कैरेबियाई देश डोमिनिका की पुलिस ने गिरफ्तार किया है और दो जून को उसके प्रत्यर्पण के मामले पर कानूनी सुनवाई होगी।

भारत ने चोकसी के अपराधों से जुड़े सारे दस्तावेज विशेष विमान से डोमिनिका भेजा है। एंटीगुआ व बारबुडा की सरकार भी भारत का पूरा सहयोग कर रही है। चोकसी भी एंटीगुआ का ही नागरिक है और वहां की सरकार का रुख उसे भारत लाने के मामले में काफी सहायक साबित होगा।

चोकसी के प्रत्यर्पण पर एंटीगुआ में मचा है राजनीतिक कोहराम

उधर, चोकसी भी अपने बचाव में जमकर पैसा खर्च कर रहा है। उसने न सिर्फ महंगे वकीलों को अपने पक्ष में तैयार किया है बल्कि माना जा रहा है कि वह राजनीतिक तौर पर भी स्थानीय समर्थन जुटाने की कोशिश में है। एंटीगुआ से जो सूचनाएं आ रही हैं, उससे साफ हो रहा है कि चोकसी ने बेहद कम समय में ही वहां अपनी खासी रसूख बना ली थी। उसके प्रत्यर्पण के खिलाफ स्थानीय विपक्षी दल सामने आ गए हैं। एंटीगुआ के विपक्षी दल चोकसी को भारत को सौंपने की कोशिशों का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि चोकसी एंटीगुआ का नागरिक है और वहां की सरकार को उसके मानवाधिकारों की सुरक्षा में खड़े होना चाहिए।

सरकारी एजेंसियां एंटीगुआ और डोमिनिका के साथ संपर्क में

दूसरी तरफ एंटीगुआ एवं बारबुडा के पीएम गेस्टन ब्राउनी ने विपक्षी दलों पर आरोप लगाया है कि चोकसी ने उन्हें खरीद लिया है। ब्राउनी ने विपक्षी दलों से अपील की है कि वे किसी अपराधी का समर्थन कर एंटीगुआ की छवि को खराब न करें। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है कि चोकसी की नागरिकता का मामला अभी भी लंबित है। ब्राउनी ने ही वहां के एक स्थानीय रेडियो को यह जानकारी दी है कि भारत ने एक विशेष विमान से दस्तावेज भेजे हैं। भारत की तरफ से आधिकारिक तौर पर इस बारे में कोई जानकारी नही दी गई है। सरकारी सूत्रों ने पिछले शुक्रवार को बताया था कि सरकारी एजेंसियां एंटीगुआ और डोमिनिका के साथ संपर्क में हैं।

हजारों करोड़ रुपये के बैंक घोटाले में है तलाश

भारतीय जांच एजेंसियों को 13 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के बैंक फ्रांड मामले में चोकसी और उसके भांजे नीरव मोदी की तलाश है। मोदी फिलहाल ब्रिटेन की जेल में बंद है और उसके प्रत्यर्पण का भी केस चल रहा है। भारत से फरार होने के बाद उसने एंटीगुआ की नागरिकता ले रखी है।

पिछले दिनों अचानक ही वह एंटीगुआ से गायब हो गया था। तीन दिनों बाद पड़ोसी देश डोमिनिका की पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। उसकी एक ताजा तस्वीर सामने आई है, जिसमें उसके एक हाथ में चोट के निशान नजर आ रहे हैं। एंटीगुआ की सरकार पहले ही कह चुकी है कि चोकसी को भारत भेजा जाना चाहिए क्योंकि वह वहीं का नागरिक है और उसकी तलाश भारतीय जांच एजेंसियां कर रही है। उधर, डोमिनिका में भी एक मानवाधिकार लाबी चोकसी को बचाने की कोशिश में है।

गर्लफ्रेंड के साथ डोमिनिका घुमने गया था चोकसी

समाचार एजेंसी के मुताबिक एंटीगुआ एवं बारबुडा के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउनी ने कहा कि चोकसी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ डोमिनिका गया होगा। उन्होंने कहा कि जो सूचना मिल रही है उसके मुताबिक चोकसी अपनी गर्लफ्रेंड को डिनर पर या फिर उसके साथ घुमने डोमिनिका गया होगा, जहां अवैध रूप से देश में घुसने के आरोप में उसे पकड़ लिया गया। यह उसकी बड़ी गलती साबित होगी, क्योंकि एंटीगुआ का नागरिक होने के नाते हम उसका तब तक प्रत्यर्पण नहीं कर सकते, जब तक की उसकी नागरिकता खत्म नहीं होती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here