Home खास ख़बरें छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- शहीद हुए...

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- शहीद हुए हमारे जवान, व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान

11
0

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों से लोहा लेते वक्त शहीद हुए जवानों को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा कि हमारे जवान शहीद हुए हैं। उन्होंने कहा कि जहां तक आंकड़ों का सवाल है तो उस बारे में मैं अभी कुछ नहीं कहना चाहता हूं क्योंकि सर्च ऑपरेशन चल रहा है। गृहमंत्री ने आगे कहा कि जिन जवानों ने अपना खून बहाया है उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि इस घटना की वजह से मैं अपना असम दौरा छोड़ दिल्ली लौट रहा हूं।

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर मुठभेड़ में 22 जवान शहीद हो गए हैं। सुरक्षा बलों ने लापता 17 जवानों के शव बरामद कर लिए हैं। 20 से ज्यादा हथियार जवानों के शव के पास से नहीं मिले हैं। नक्सली जवानों की हत्या करने के बाद हथियार लूट ले गए हैं। हमले का मास्टरमाइंड बटालियन नंबर 1 का हेड हिडमा है। माओवादियों का सबसे बड़ा बटालियन है ये। वहीं इस हमले की वजह से गृहमंत्री अमित शाह ने भी चुनावी दौरा छोड़ दिल्ली रवाना हो गए हैं।

अमित शाह ने रविवार सुबह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को फोन कर बीजापुर में हुई नक्सली घटना के संबंध में विस्तृत चर्चा की। मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय गृह मंत्री को बीजापुर में राज्य और केंद्र के सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ की मैदानी स्थिति से अवगत कराया।

22 जवानों के शव बरामद

सुकमा जिले के जगरगुंडा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी जिसमें पांच जवानों के शहीद होने और 30 अन्य जवानों के घायल होने की जानकारी मिली थी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शहीद जवानों में से दो जवानों के शव सुरक्षा बलों ने बरामद किए थे और तीन अन्य जवानों के शव शिविर नहीं लाए जा सके थे।

वहीं इस घटना के दौरान 18 अन्य जवानों के लापता होने की जानकारी मिली थी। लापता जवानों की तलाश में आज सुरक्षा बलों को रवाना किया गया था। सुरक्षा बलों ने शनिवार को शहीद तीन जवानों के शवों और 17 अन्य जवानों (कुल 20 जवानों) के शवों को बरामद कर लिया है।

ये जवान हुए शहीद


शहीद जवानों में उप निरीक्षक दीपक भारद्वाज पिता राधे लाल निवासी बिहारी थाना मालखरौदा जिला जांजगीर चांपा, रमेश कुमार जुर्री पिता मेघनाथ प्रधान आरक्षक/1376 निवासी मेवाती पंडरीपानी थाना चारामा जिला कांकेर, नारायण सोढ़ी पिता सोढ़ी रमैया प्रधान आरक्षक/1337 निवासी पुन्नूर थाना आवापल्ली जिला बीजापुर, रमेश कोरसा पिता सुकलू कोरसा आरक्षक/1101 निवासी ग्राम बदरेला थाना जांगला जिला बीजापुर, आरसुभाष नायक पिता सीताराम नायक आरक्षक/791 निवासी ग्राम बासागुड़ा थाना बासागुड़ा जिला बीजापुर, किशोर एंड्रिक पिता रामधर एंड्रिक सहायक आरक्षक/810 निवासी ग्राम चेरपाल थाना बीजापुर जिला बीजापुर, सनकू राम सोढ़ी पिता मंगलूराम सहायक आरक्षक/1163 निवासी ग्राम पेदापाल थाना मीरतुर जिला बीजापुर, भोसाराम कटरामी पिता लक्ष्मण कटरामी सहायक आरक्षक/372 निवासी ग्राम एकेली थाना नेलसनार जिला बीजापुर का समावेश है

ये जवान हुए घायल

रामाराम पोयम (एसटीएफ), अमित कुमार (कोबरा 210), सुनील कुमार (कोबरा 210), संमेश (कोबरा 210), लक्ष्मण हेमला (डीआरजी), भास्कर यादव (एसटीएफ), मनीराम कुंजाम (डीआरजी), सोमारुकर्मा (डीआरजी), विजय मंडावी (डीआरजी), बदरु पुनेम (डीआरजी), आनंद पटेल (कोबरा 210), आनंद कुरसम (डीआरजी), प्रकाश चेट्टी (डीआरजी), बसंत झाड़ी (डीआरजी), मदनपाल (कोबरा 210), दसरू हेमला (डीआरजी), बलेंदर सिंह (कोबरा 210), सोनू मंडावी (एसटीएफ), जितेंद्र दास (कोबरा 210), सूर्यभान सिंह यादव (कोबरा 210), थामेश्वर साहू (एसटीएफ), थॉमस पॉल (कोबरा 210) शामिल हैं। इस सभी का इलाज बीजापुर में जारी है। बाकी के अन्य सात गंभीर रूप से घायल जवानों का उपचार रायपुर में चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here