Home खास ख़बरें देश के कई हिस्‍सों में भारी बारिश की चेतावनी, जलभराव की मार...

देश के कई हिस्‍सों में भारी बारिश की चेतावनी, जलभराव की मार झेल रहे महाराष्ट्र

96
0
  • मध्य प्रदेश, कोंकण और गोवा के कुछ इलाकों में भारी से ज्‍यादा भारी बारिश की संभावना

नई दिल्‍ली। देश के विभिन्‍न इलाकों में झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश ने कहर बरपा दिया है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले हफ्ते उत्तरी पश्चिमी बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र की वजह से पूर्वी और उत्तरी भारत में अगले दो दिनों तक अच्छी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग ने कहा है कि 25 जुलाई से उत्तर भारत के मैदानी इलाकों और पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश की गतिविधियां बढ़ेंगी। वहीं अगले 24 घंटों में पश्चिमी तट पर बारिश की तीव्रता कम होने के आसार हैं जिससे जलभराव की मार झेल रहे महाराष्ट्र और गोवा को राहत मिल सकती है।

मौसम विभाग के हवाले से बताया है कि अगले 24 घंटों के दौरान कोंकण, गोवा और पास में महाराष्ट्र के भीतरी इलाकों सहित पश्चिमी तट पर बारिश में कमी आने की संभावना है। इससे महाराष्‍ट्र और गोवा में लोगों को राहत मिल सकती है। पिछले कुछ दिनों में महाराष्ट्र में अत्यधिक भारी बारिश ने कई लोगों की जान ले ली है जबकि कई इलाके जलमग्न हो गए हैं। इससे संपत्ति को भी भारी नुकसान पहुंचा है।

मौसम विभाग की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक झारखंड और इससे सटे उत्तरी छत्तीसगढ़ पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके धीरे-धीरे पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। यही नहीं 28 जुलाई के आसपास उत्‍तरी बंगाल की खाड़ी और आसपास के इलाकों में एक नया निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इससे पूर्वी और उत्तरी भारत में अगले दो दिनों तक अच्छी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक 25 जुलाई तक गुजरात में तेज बारिश होने की संभावना है। यही नहीं राज्‍य के कुछ इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। हालांकि बाद में इसमें कमी आएगी। वहीं पूर्वी राजस्थान में 26 जुलाई तक तेज बारिश के आसार हैं जबकि कुछ-कुछ इलाकों में भारी बारिश संभव है। बाद में वर्षा कम होगी। यही नहीं 25 से 28 जुलाई के दौरान उत्तराखंड में बारिश होने की संभावना है। सूबे में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग का कहना है कि‍ पश्चिमी मध्य प्रदेश में भी भारी बारिश हो सकती है। वहीं हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 26-28 जुलाई को जबकि पंजाब तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश में 27-28 जुलाई को बारिश के आसार हैं। 27 और 28 जुलाई को हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्‍ति‍ में कहा गया है कि‍ 25 जुलाई से उत्तर पश्चिम भारत में बारिश की गतिविधियां बढ़ने के आसार हैं। 25 से 28 जुलाई के दौरान उत्तराखंड में भारी से बहुत भारी वर्षा के साथ व्यापक रूप बारिश होने की आशंका है।

वहीं मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली एजेंसी स्‍काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक पूर्वोत्तर भारत, सिक्किम, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, तटीय कर्नाटक, केरल, विदर्भ, झारखंड के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है।

स्‍काईमेट वेदर ने अपनी रिपोर्ट में यह भी कहा है कि‍ अगले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश, कोंकण और गोवा के कुछ इलाकों में भारी से ज्‍यादा भारी बारिश के साथ ही कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। हालांकि‍ धीरे धीरे में इसमें कमी आती जाएगी। यही नहीं झारखंड, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा के कुछ हिस्सों और गुजरात में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर भारी बारिश संभव है।

Previous articleचीन से मुकाबले के लिए लद्दाख मोर्चे पर भारतीय सेना ने तैनात की आतंकवाद निरोधी इकाई
Next articleसदन में हंगामे से विपक्ष की होने लगी बदनामी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here