Home खास ख़बरें स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की शौर्य गाथा जानने अंडमान जाएंगे प्रदेश के स्कूली...

स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की शौर्य गाथा जानने अंडमान जाएंगे प्रदेश के स्कूली बच्चे: शिवराज

16
0

आजादी का अमृत महोत्सव शुरू : मप्र में 430 जगहों पर 75 सप्ताह तक होंगे आयोजन

स्वदेश ब्यूरो, भोपाल।

भारत को मिली आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर प्रदेश स्तरीय ‘आजादी का अमृत महोत्सवÓ का शुभारंभ शुक्रवार को यहां शौर्य स्मारक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया। मौसम के अचानक करवट बदलने से मुख्यमंत्री ने बारिश की मामूली बंूदाबांदी के बीच लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की शौर्य गाथा जानने के लिए प्रदेश के चुनिंदा स्कूली बच्चों को अंडमान की यात्रा कराई जाएगी। यह भी प्रयास होगा कि प्रदेश के सभी स्कूलों में एनसीसी और एनएसएस शुरू हो सकें।

मुख्यमंत्री ने महोत्सव के शुभारंभ से पूर्व भारत माता की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की वहीं शौर्य स्मारक शहीदों के सम्मान में पुष्प चक्र अर्पित किए। उन्होंने रीजनल आउट रीच ब्यूरो की ओर से महात्मा गांधी, सरदार वल्लभ भाई पटेल, नेताजी सुभाष चंद्र बोस जैसे क्रांतिकारियों के अलावा मध्य प्रदेश के क्रांतिकारियों पर केंद्रित चित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ और अवलोकन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में आजादी के महत्व और इसे प्राप्त करने के लिए दिए गए बलिदान के बारे में बताया। महोत्सव में 430 स्थानों पर इसके तहत कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। रवींद्र भवन में चित्र शिविर और लाल परेड मैदान में हुनर हाट इसी श्रृंखला में शुक्रवार से आरंभ हुए हैं। हुनर हाट का शुभारंभ केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी करेंगे। प्रदेश में यह महोत्सव 75 सप्ताह तक मनाया जाएगा। इधर,प्रदेश भाजपा भी अपने स्तर पर यह महोत्सव मना रही है। इसी क्रम में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने आज शाम पुराने शहर में शहीद गेट पर दीप प्रज्ज्वलित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। श्री शर्मा सुबह आयोजित कार्यक्रम में भी शामिल हुए। इस मौके पर फिल्म निर्माता प्रकाश झा सहित अनेक हस्तियां मौजूद थीं।

आजाद रहेंगे, आजाद रहेंगे… से गूंजा समां

इस मौके पर सातवीं बटालियन के पुलिस बैंड ने देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति दी। राज भारती कला संगम के कलाकारों ने देशभक्ति गीत और लोकनृत्य प्रस्तुति किए। गर मर भी गए हम तो सदा याद रहेंगे, आजाद रहेंगे-आजाद रहेंगे…, आई है आजादी गोरी भारत निहाल है… जैसे गीतों ने देशभक्ति का जज्बा जगाया। अभिलाषा म्युजिक ग्रुप, भोपाल के कलाकारों ने भी देशभक्ति के नगमे सुनाए।

चित्र प्रदर्शनी के प्रमुख आकर्षण

चित्र प्रदर्शनी में राणा बख्तावर सिंह, ठाकुर रणमत सिंह, टुरिया शहीद मुड्डे बाई, भीमा बाई आदि के चित्रों को आजादी में उनके योगदान सहित प्रदर्शित किया गया है। 1857 से 1947 के मध्य हुई भारतीय क्रांतियात्रा की प्रमुख घटनाओं को चित्रों और शब्दों के माध्यम से व्यक्त किया गया है। हालांकि समारोह खत्म होने के बाद कुछ विद्यार्थी ही प्रदर्शनी देखते नजर आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here