Home खास ख़बरें तेजस्‍वी यादव व मीसा भारती पर पांच करोड़ की ठगी का एफआइआर,...

तेजस्‍वी यादव व मीसा भारती पर पांच करोड़ की ठगी का एफआइआर, पैसे लेकर टिकट नहीं देने का आरोप

42
0

पटना। राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव तथा उनकी बहन व राज्‍यसभा सदस्‍य मीसा भारती पर पटना के कोतवाली थाना में ठगी का मुकदमा दर्ज किया गया है। उन पर बीते लोकसभा चुनाव में पैसे लेकर टिकट नहीं देने का आरोप लगाया गया है।

लोकसभा चुनाव में टिकट के नाम पर ठगी का आरोप

ज्ञात हो कि कांग्रेस नेता व अधिवक्‍ता संजीव कुमार सिंह ने पटना के मुख्‍य न्‍यायिक दंडाधिकारी की अदालत में 18 अगस्त को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव व मीसा भारती तथा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, सदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश तथा राजेश राठौर सहित कुल छह लोगों को आरोपित बनाया गया। संजीव कुमार सिंह ने उन पर बीते लोकसभा चुनाव में पैसे लेकर टिकट देने का आरोप लगाया है। कहा है कि टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ की ठगी की गई है।

रुपये वापस मांगने पर तेजस्वी ने हत्‍या की धमकी

कांग्रेस नेता संजीव कुमार सिंह ने मुकदमे में आरोप लगाया है कि आरजेडी में उनसे लोकसभा चुनाव का टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये ठग लिए गए। टिकट भी नहीं दिया गया। फिर, बाद में विधानसभा चुनाव का टिकट देने का गलत आश्वासन दिया गया। संजीव का आरोप है कि उन्‍होंने टिकट के लिए आरजेडी कार्यालय में तेजस्वी यादव और मदन मोहन झा को पांच करोड़ रुपये दिए थे। बाद में टिकट नहीं मिलने पर रुपये वापस मांगने पर तेजस्वी यादव ने हत्‍या की धमकी दी थी।

कोर्ट के आदेश पर कोतवाली थाना में एफआइआर दर्ज

संजीव कुमार सिंह के मुकदमे में सीजेएम काेर्ट ने 16 सितंबर को पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा के माध्‍यम से कोतवाली थाना को एफआइआर दर्ज करने का आदेश दिया। इसके बाद बुधवार को यह एफआइआर दर्ज कर ली गई है।

तेजस्‍वी यादव ने सफाई में कही ये बातें

इस मामले में तेजस्वी यादव ने कहा कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो तो सब साफ हो जाएगा। आरोप लगाने वाले से यह भी पूछना जरूरी है कि उसके पास पांच करोड़ रुपये कहां से आए। कानून अपना काम करेगा।

Previous articleटी नटराजन हुए कोरोना पॉजिटिव, क्लोज कॉन्टैक्ट होने के चक्कर में विजय शंकर भी आइसोलेशन में, क्या आज हो पाएगा DC vs SRH मैच?
Next articleईशनिंदा के नाम पर पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों से बर्बरता, अंतरराष्ट्रीय कानूनों का हो रहा उल्लंघन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here