Home » चुनावी साल : विंध्य को सौगातों की झड़ी, पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

चुनावी साल : विंध्य को सौगातों की झड़ी, पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने तीन ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

पौने आठ हजार करोड़ की जल परियोजनाओं का किया शिलान्यास

इंदौर और ग्वालियर रेलवे स्टेशन के विकास के साथ 23सौ करोड़ की परियोजना का किया शुभारंभ

प्रदेश में 100 प्रतिशत रेल परियोजनाओं का विद्युतीकरण हो गया

उत्कृष्ट कार्य करने वाले पंचायत प्रतिनिधियों को किया सम्मानित

केंद्रीय पंचायत राज मंत्री, प्रदेश के राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी शामिल

भोपाल। चुनावी साल में आज प्रदेश के विंध्य को एक साथ कई बड़ी सौगातें मिल रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित करने रीवा पहुंचे हैं। दोपहर करीब एक बजे से प्रधानमंत्री का संबोधन शुरू हो चुका है। रीवा पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का केंद्रीय पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह, प्रदेश के राज्यपाल मंगुभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा सहित बड़ी संख्या में भाजपा के नेतागण उपस्थित रहे।

प्रधानमंत्री का विंध्य के स्थानीय और आदिवासी कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से स्वागत किया है। प्रधानमंत्री यहां राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर आयोजित पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित कर रहे हैं। रीवा के एसएएफ ग्राउंड में आयोतित समारोह में मोदी 1700 करोड़ की परियोजनाओं की आधारशिला रखी और 7853 करोड़ के कार्यों का शुभारंभ करेंगे। रीवा में मोदी का यह तीसरा दौरा है।

इससे पहले वह मई 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान और दूसरी बार नवंबर 2018 में विधानसभा चुनाव के प्रचार में आए थे।

4 लाख हितग्राहियों को कराया गृह प्रवेश
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रदेश के चार लाख 11 हजार गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनाए गए मकानों में एक साथ वर्चुअली गृह प्रवेश कराया। इसके साथ ही मोदी ने पंचायत स्तर पर सार्वजनिक खरीद के लिए एकीकृत ई-ग्राम स्वराज और जीईएम पोर्टल का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री समावेशी विकास विषय पर आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के तहत एकीकृत राष्ट्रीय, एकम समावेशी विकास वेबसाइट और मोबाइल ऐप का भी उन्होंने शुभारंभ किया है।

रीवा-इतवारी ट्रेन को दिखाई हरी झंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रीवा-इतवारी (नागपुर) ट्रेन को वर्चुअली हरी झंडी दिखाकर रवारा किया। इसके साथ ही उन्होंने 35 लाख स्वामित्व संपत्ति कार्ड भी बांटे। उक्त कार्ड बांटने के साथ अब तक 1 करोड़ 25 लाख व्यक्तियों को स्वामित्व संपत्ति कार्ड प्रदान हो चुके हैं।

देशभर से आए हैं पंचायत प्रतिनिधि

समारोह में देशभर के पंचायत प्रतिनिधियों को बुलाया गया है। देश के चुनिंदा पंचायत प्रतिनिधियों को प्रधानमंत्री ने यहां संबोधित किया और उत्कृष्ट कार्य करने वाले पंचायत प्रतिनिधियों को संबोधित भी किया है। रीवा और आसपास के जिलों के करीब एक लाख पंचायत प्रतिनिधियों को समारोह में बुलाया गया है। विंध्य के करीब एक लाख से अधिक लोग समारोह में शामिल हो रहे हैं।

इन रेल परियोजनाओं की दी सौगात
प्रधानमंत्री ने आज रीवा में आयोजित समारोह में बीना-कोटा रेल खंड का दोहरीकरण, छिंदवाड़ा-नैनपुर-मंडला फोर्ट रेल खंड का गेज परिवर्तन और इलेक्ट्रिफिकेशन, बिरला नगर-उदी मोड फोर्ट रेलखंड और महोबा- खजुराहो- उदयपुरा रेल खंड का इलेक्ट्रिफिकेशन की सौगात दी है। इसके साथ ही दो बड़े रेलवे स्टेशन इंदौर और ग्वालियर के रीडेवलपमेंट प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया भी किया है। प्रधानमंत्री ने छिंदवाड़ा-नैनपुर यात्री ट्रेन और नैनपुर-छिंदवाड़ा ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है।

सौभाग्य के सूर्य का उदय हुआ : शिवराज

समारोह में शामिल होने रीवा रवाना होने से पहले भोपाल में मीडिया से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश की धरा रीवा पर प्रधानमंत्री आज पधार रहे हैं। प्रधानमंत्री अनेकों सौगातें लेकर आ रहे हैं। 4 लाख 11 हजार हितग्रहियों को गृह प्रवेसम का कार्यक्रम संपन्न करेंगे। दूसरी तरफ भी स्वामित्व के अधिकार पत्र का प्रदाय करेंगे। क्षेत्रों में बहनों भाइयों के पास जमीन भी है और उस पर मकान भी बना हुआ है, लेकिन कोई अधिकार पत्र नहीं था। अब सवा करोड़ अधिकार पत्र प्रधानमंत्री जी रीवा में हितग्राहियों को सौंपेंगे। इस बीच जल जीवन मिशन के अंतर्गत लगभग 7 हजार 853 करोड रुपए की 5 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। इससे रीवा सतना और सीधी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों को पीने का पानी घर में भी मिलेगा जल जीवन मिशन के अंतर्गत पाइप लाइन बिछाकर टोटी वाला नल लगाकर पानी दिया जाएगा।

साढ़े नौ लाख परिवारों को मिलेगा पानी

प्रधानमंत्री मोदी आज रीवा में 7853 करोड़ की 5 समूह जल प्रदाय योजनाओं का शिलान्यास किया है। इन परियोजनों के पूरा होने के बाद रीवा, सतना और सीधी जिले के चार हजार गांव के साढ़े नौ लाख परिवारों को पीने और खेतों की सिंचाई के लिए आसानी से पानी उपलब्ध हो सकेगा। रीवा जिले की बाणसागर परियोजना की लागत 2319 करोड़ 45 लाख रुपए है, इससे 1411 गांव में पानी पहुंचेगा। सतना बाणसागर-2 की परियोजना की लागत 2153 करोड़ 12 लाख रुपए है, इससे रीवा, सतना जिले के 295 गांव लाभांवित होंगे।

सीधी बाणसागर समूह नल जल योजना की लागत 1641 करोड़ 52 लाख रुपए है। इससे 677 गांव में पीने का पानी पहुंचेगा। टमस समूह नल जल योजना की लागत 951 करोड़ 18 लाख रुपए है। इससे रीवा जिले के 630 गांव लाभांवित होंगे। सीधी जिले की गुलाब सागर समूह नल जल योजना की लागत 788 करोड़ 63 लाख रुपए है। इससे 323 गांव लाभांवित होंगे।

Election Year: Showers of gifts to Vindhya, Prime Minister Narendra Modi addressing the Panchayati Raj Conference.

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd