एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखा पत्र, विधायकों के परिवार की सुरक्षा सरकार की जिम्मेदारी

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, महाराष्ट्र के गृह मंत्री और डीजीपी महाराष्ट्र को लिखा पत्र कहा कि ’38 विधायकों के परिवार के सदस्यों की सुरक्षा को दुर्भावनापूर्ण रूप से वापस लिया गया है.’ उन्होंने ट्वीट करके कहा, ‘महाराष्ट्र सरकार विधायकों और उनके परिवारों की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है.’
मुंबई:
शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने दावा किया है कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार ने शिवसेना के बागी विधायकों के ​परिवारों की सुरक्षा वापस ले ली है. उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, महाराष्ट्र के गृह मंत्री और डीजीपी महाराष्ट्र को लिखा पत्र कहा कि ’38 विधायकों के परिवार के सदस्यों की सुरक्षा को दुर्भावनापूर्ण रूप से वापस लिया गया है.’ उन्होंने ट्वीट करके कहा, ‘महाराष्ट्र सरकार विधायकों और उनके परिवारों की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है.’ बागी विधायकों के परिवार की सुरक्षा वापस लेने के एकनाथ शिंदे के आरोपों पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, हमने किसी की सुरक्षा नहीं हटाई है, लोगो में गुस्सा है.’ उन्होंने कहा, ‘महाराष्ट्र विधानसभा के फ्लोर पर आइए, देखते हैं किसमें कितना दम है. मैं हवा में कोई बात नहीं करता. जो उद्धव जी कहते हैं, मैं वही कहता हूं. जो बगावत कर रहे हैं, वे अपनी विधायकी बचाएं. मैं देवेंद्र फडणवीस को कहूंगा कि वह इस झमेले से बाहर रहें, नहीं तो फंस जाएंगे.’ संजय राउत ने कहा, ‘आज हमारी कार्यकारिणी की बैठक में बहुत से मुद्दों पर बात होगी. नई नियुक्ति…विस्तार के बारे में…यह पार्टी हमारे खून से बनी है. यूंही कोई हाईजैक नहीं कर सकता. कोई इस पार्टी को पैसे के दम पर खत्म नहीं कर सकता. हमें यकीन है कि एक बार (बागी) विधायक मुंबई वापस आ जाएंगे, वे फिर से हमारे पक्ष में लौट आएंगे. कल रात हमारी बैठक के दौरान शरद पवार की मौजूदगी में, हमें 10 (बागी) विधायकों का फोन आया. सदन के पटल पर आओ, और हम जानेंगे कौन मजबूत है.’ भाजपा नेताओं पर गुस्सा निकालने हुए संजय राउत ने कहा, महाराष्ट्र के बाहर, आप चील हैं. लेकिन लोगों का धैर्य कमजोर होता जा रहा है. अभी शिवसैनिक सड़कों पर नहीं उतरे हैं. ऐसा किया तो सड़कों पर आग लग जाएगी.
बागी विधायकों ने एकनाथ शिंदे पर छोड़ा आगे का फैसला
इधर बागी विधायकों ने आगे के फैसले की जिम्मेदारी एकनाथ शिंदे पर छोड़ दी है. शिवसेना के बागी विधायक सदा सरवणकर ने कहा कि बागी विधायकों ने एकनाथ शिंदे को सारी जिम्मेदारी दी है और वह जो भी फैसला करेंगे उसका पालन सभी विधायक करेंगे. सरवणकर ने कहा, ‘हम एक व्यक्ति (शिंदे) पर निर्भर हैं और हम यहां आए हैं. हमने उन्हें सारी जिम्मेदारी दी है. शिंदे जी जो भी फैसला करेंगे, हम उसके साथ जाएंगे.’ उन्होंने कहा कि कुछ मुद्दे हैं जो सही नहीं थे, इसलिए हमें गुवाहाटी आना पड़ा. वहीं, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार शाम बीएमसी पार्षदों की मीटिंग में कहा, ‘भाजपा, जिसने हमारी पार्टी, मेरे परिवार को बदनाम किया है, आप उसके साथ जाने की बात कर रहे हैं. ऐसा प्रश्न ही नहीं उठता. विधायक अगर वहां जाना चाहते हैं तो वे जा सकते हैं. मैं ऐसा नहीं करूंगा.’

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News