Home खास ख़बरें 6 महीने के टॉप पर कोरोना का कहर: मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र...

6 महीने के टॉप पर कोरोना का कहर: मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र के इन शहरों में लॉकडाउन

9
0

नई दिल्ली। पहले केरल और उसके बाद महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों से देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के जो संकेत मिले थे, पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक और गुजरात समेत कुछ राज्यों में मरीजों की संख्या में आए उछाल ने उसकी पुष्टि कर दी है। हालात बयां कर रहे हैं कि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर पहली से भी ज्यादा संक्रामक है। फिलहाल थोड़े सुकून की बात यह है कि दूसरी लहर अभी तक ज्यादा घातक नजर नहीं आ रही।

हालांकि, छह महीने बाद एक दिन में करीब 82 हजार नए मामले मिले हैं और लगभग चार महीने बाद 469 लोगों की मौत भी हुई है, लेकिन नमूनों की जांच की तुलना में दैनिक मृतकों की संख्या पहले की तुलना में कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से शुक्रवार की सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों के दौरान देश भर में कोरोना संक्रमण के 81,466 नए मामले मिले हैं।

इससे पहले पिछले साल दो अक्टूबर को 81,484 नए केस पाए गए थे, यानी शुक्रवार की तुलना में 18 ज्यादा। इस दौरान 469 लोगों की मौत भी हुई और 50,356 लोगों को अस्पताल से छुट्टी भी मिली। पिछले साल छह दिसंबर को 482 लोगों की जान गई थी। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1.23 करोड़ से अधिक हो गया है। इनमें से 1.15 करोड़ से अधिक लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं और 1,63,396 लोगों की जान भी जा चुकी है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्य सरकारें अपने यहां पाबंदियां लगानी शुरू कर दी है।

मप्र के 4 जिलों में आज रात से फुल लॉकडाउन

मध्यप्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण के चलते राज्‍य में चार जिलों मे एक दिन से अधिक का लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया है। छिंदवाड़ा में तीन दिन और बैतूल ,खरगोन और रतलाम में दो दिन की पूर्णबंदी का आज रात से लागू हो जाएगा है। गुरुवार को मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 2546 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 2,98,057 हो गई है। इसके मद्देनजर मध्‍यप्रदेश शासन ने यह कदम उठाया है।

वहीं, एमपी के 11 जिलों के 12 शहरों में शनिवार रात 10 बजे से सोमवार को सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। इंदौर, भोपाल, जबलपुर, छिंदवाड़ा, रतलाम, बैतूल और खरगोन में पहले से ही लॉकडाउन का आदेश है। ग्वालियर, उज्जैन, विदिशा, नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा जिले के सौंसर में भी लॉकडाउन लगाने का आदेश जारी किया गया है।

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में 6 अप्रैल से कंप्लीट लॉकडाउन

कोरना वायरस की स्थिति को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने बढ़ा कदम उठाया है। दुर्ग कलेक्टर सर्वेश्वर भुरे ने बताया कि दुर्ग जिले में 6 से 14 अप्रैल पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण अब गांवों में भी पैर पसार रहा है। जिले के ढौर गांव में ही 180 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस गांव में कुछ दिनों पहले झांकी और मेला का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इससे संक्रमण फैलने की आशंका जताई जा रही है। अधिकारियों ने बताया कि कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा है कि जिले में संक्रमण के बढ़ते मामलों के बाद यह जरूरी है कि लॉकडाउन के माध्यम से इसे नियंत्रित किया जाए। इसके लिए नागरिकों का सहयोग बेहद जरुरी है।

महाराष्ट्र के पुणे में लगा आंशिक लॉकडाउन

महाराष्ट्र के पुणे शहर के डिविजनल कमिश्नर सौरभ राव ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बड़ा ऐलान किया है। उनके मुताबिक अब पुणे शहर में बार, रेस्टोरेंट और होटल 7 दिन के लिए बंद रहेंगे, सिर्फ पार्सल सेवा शुरू रहेगी। शहर के सभी धार्मिक स्थलों को आगामी 7 दिनों के लिए बंद रखा गया है। पुणे से चलने वाली बस सेवा को भी 7 दिनों तक बंद रखने का फैसला किया गया है। इस दौरान सभी राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रम भी बंद रहेंगे। पहले से तय शादी समारोह में सिर्फ 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं जबकि अंतिम संस्कार में 20 लोगों की अनुमति होगी। शाम 6 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू का ऐलान आगामी एक सप्ताह के लिए किया गया है। दोपहर के दौरान धारा 144 शहर में एक सप्ताह तक लागू रहेगी। 7 दिन बाद हालात का जायजा लेकर आगे फैसला लिया जाएगा। इस दौरान नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 30 अप्रैल तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here