Home खास ख़बरें एफसीआई क्लर्क के निवास से CBI ने 2.50 करोड़ नकदी बरामद किए

एफसीआई क्लर्क के निवास से CBI ने 2.50 करोड़ नकदी बरामद किए

29
0

संभागीय प्रबंधक के निवास पर भी सीबीआई ने मारा है छापा
सुरक्षा एजेंसी का बिल पास करने के एवज में रिश्वत लेने का मामला

भोपाल। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) को सुरक्षा गार्ड उपलब्ध कराने वाली गुरुग्राम की सुरक्षा एजेंसी से एक लाख रुपए से अधिक की घूस लेने के आरोप में गिरफ्तार संभागीय प्रबंधक और क्लर्क के घर आज सुबह फिर सीबीआई ने छापा मारा है। दोपहर तक छापे में क्लर्क कैलाश मीणा के निवास में रखी तिजोरी से करीब ढाई करोड़ रुपए से अधिक नकद बरामद हुए हैं। देर रात तक दो प्रबंधकों, संभागीय प्रबंधक और क्लर्क को गिरफ्तार करने के बाद उनके ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी जारी थी। आज सुबह क्लर्क के छोला स्थित एफसीआई गोदाम के पास स्थित निवास और संभागीय प्रबंधक के निवास पर छापेमारी चल रही है। बताया जाता है कि संभागीय प्रबंधक के यहां से भारी मात्रा में फाइलें व अन्य दस्तावेज भी सीबीआई ने जब्त किए हैं।

जानकारी के अनुसार अकाउंट मैनेजर अरुण श्रीवास्तव और सिक्यूरिटी विंग के मैनेजर मोहन पराते सुरक्षा एजेंसी के संभागीय प्रबंधक से घूस की राशि लेने माता मंदिर पहुंचे थे। यहां सीबीआई ने एक अधिकारी के मोबाइल का स्पीकर ऑन कर संभागीय प्रबंधक से बात कराई। संभागीय प्रबंधक हर्ष उन्नयना ने फोन पर मैनेजर से कहा कि वह उक्त घूस की राशि क्लर्क के पास रखवा दें। इसके बाद सीबीआई ने संभागीय मैनेजर उन्नयना और कैलाश मीणा को भी गिरफ्तार कर लिया है। आज सीबीआई इन्हीं दोनों के घर तलाशी ले रही है।

क्या है पूरा मामला?
गुरुग्राम स्थित कैप्टन कपूर एंड संस नाम की कंपनी को इस साल जनवरी से 11.30 लाख रुपये प्रति माह की दर से एफसीआई को सुरक्षा गार्ड उपलब्ध कराने का टेंडर दिया गया था। एफसीआई के अकाउंट्स मैनेजर कंपनी पर हर स्वीकृत बिल के बदले करीब 11.30 लाख रुपये प्रति माह के हिसाब से 10 फीसदी देने का दबाव बना रहे थे। कंपनी ने ऐसा करने से इनकार कर दिया, तो अकाउंट्स मैनेजर ने विभिन्न आधारों पर बिलों में कटौती करना शुरू कर दिया। अधिकारियों ने कहा नये बिल 11.30 लाख रुपये से घटाकर 6 लाख रुपये कर दिए गए। इसके बाद कंपनी के अधिकारी ने सीबीआई में शिकायत की। शिकायत की पुष्टि होने के बाद सीबीआई के बिछाए गए जाल में एफसीआई के दो प्रबंधक माता मंदिर के पास एक लाख रुपए की घूस लेते फंस गए।

Previous article‘चलित आरोग्य केंद’ के माध्यम से गांव-गांव पहुंच रही है कोविड केयर किट
Next article31 लाख नकदी, 200 ग्राम सोना दहेज में लेने के बाद ऐसी प्रताडऩा की नवविवाहिता ने दे दी जान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here