Home खास ख़बरें केजरीवाल ने लगाया आरोप, कहा- चुनी हुई दिल्ली सरकार की शक्ति को...

केजरीवाल ने लगाया आरोप, कहा- चुनी हुई दिल्ली सरकार की शक्ति को कम करना चाहती है भाजपा

7
0

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। केजरीवाल ने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह लोकसभा में एक नया विधेयक लाकर उनकी चुनी हुई सरकार की शक्तियों को बहुत कम करना चाहती है। केजरीवाल ने यह भी कहा कि यह विधेयक संविधान पीठ के फैसले के विपरीत है।

दरअसल, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली (संशोधन) विधेयक 2021 को सोमवार को संसद के निचले सदन में पेश किया गया। इस विधेयक में दिल्ली के उपराज्यपाल (एलजी) को अधिक शक्तियां देने का प्रावधान रखा गया है। इस मामले में केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, दिल्ली के लोगों के जरिए खारिज किए जाने (विधानसभा में आठ सीटें और हाल के एमसीडी उपचुनाव में एक भी सीट न मिलने) के बाद बीजेपी आज लोकसभा में एक विधेयक के जरिए चुनी हुई सरकार की शक्तियों को काफी कम करना चाहती है। यह विधेयक संविधान पीठ के फैसले के विपरीत है। हम बीजेपी के असंवैधानिक और लोकतंत्र विरोधी कदम की कड़ी निंदा करते हैं।

एक अन्य ट्वीट में मुख्यमंत्री ने कहा, विधेयक कहता है- (1) दिल्ली के लिए ‘सरकारÓ का मतलब एलजी होगा, तो फिर चुनी हुई सरकार क्या करेगी? (2) सभी फाइलें एलजी के पास जाएंगी। यह संविधान पीठ के 4.7.18 के फैसले के खिलाफ है जो कहता है कि फाइलें एलजी को नहीं भेजी जाएंगी, चुनी हुई सरकार सभी फैसले करेगी और फैसले की प्रति एलजी को भेजी जाएगी।

मनीष सिसोदिया ने भी साधा निशाना

वहीं इस मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी ट्वीट किया है। सिसोदिया ने लिखा है- भाजपा आज संसद में नया कानून लेकर आई है- दिल्ली में उपराज्यपाल ही सरकार होंगे। मुख्यमंत्री, मंत्री को अपनी हर फाइल एलजी के पास भेजनी होगी। चुनाव के पहले भाजपा का घोषणापत्र कहता है कि दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाएंगे। चुनाव जीतकर कहते हैं दिल्ली में एलजी ही सरकार होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here