शराब तस्करी के मामले में भाजपा नेता पर लगा आरोप

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

स्वदेश डेस्क (विशाखा धारे) – भाजपा नेता जयराम दुबे को 13 लीटर शराब के साथ राजनांदगांव पुलिस ने 21 सितम्बर की रात पाटेकोहरा चेकपोस्ट पर पकड़ने का मामला सामने आया है। उन पर आरोप लगाया हैं कि वे महाराष्ट्र से शराब तस्करी  का काम कर रहे थे । वहीं भाजपा का कहना है कि जयराम दुबे, सूचना का अधिकार कानून-RTI का उपयोग कर सरकार की पोल खोल रहे थे। इसकी वजह से दुबे को शराब तस्करी के मामले में फंसाया जा रहा है।

BJP cell arrested in liquor smuggling case, ruckus of chhattisgarh | भाजपा  नेता शराब तस्करी मामले में गिरफ्तार, राजनांदगाव से लेकर रायपुर तक मचा बवाल  | Patrika News

भाजपा RTI प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक डॉ. विजय शंकर मिश्रा का कहना हैं कि , जयराम दुबे ने RTI आवेदन लगाकर गोबर खरीदी घोटाला खोला था। और तो और उन्होंने आबकारी विभाग के भ्रष्टाचार और कोविड दवा खरीदी से जुड़ी अनियमितता का मामला भी उजागर किया था । इसकी वजह से सरकार उन्हें फंसा रही है।

ये भी पढ़ें:  महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का जारी हुआ, मृत्यु प्रमाण पत्र

वहीं भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता केदार गुप्ता, नलिनीश ठोकने और भाजपा RTI प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक डॉ. विजय शंकर मिश्रा ने यह भी कहा कि , जयराम दुबे RTI प्रकोष्ठ के नेता हैं। वे नागपुर से रायपुर आ रहे थे। उनकी गाड़ी पर बड़े अक्षरों में सूचना का अधिकार प्रकोष्ठ-भाजपा लिखा हुआ था। उसी से उनकी पहचान कर 30-35 पुलिस कर्मियों ने उनको रोका। उनसे कार की डिक्की खोलने को कहा गया। नेताओं ने बताया, पुलिस वालों ने खुद ही उनकी गाड़ी में शराब की बोतलें रखी। उसके बाद कार को चलवाकर बैरीकेट तक ले गए और वहां शराब जब्ती का नाटक किया। उनके खिलाफ आबकारी कानून के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया। इससे पहले उनके किसी परिजन को गिरफ्तारी की सूचना भी नहीं दी गई। भाजपा नेताओं का आरोप था कि सरकार भाजपा कार्यकर्ताओं को ऐसे ही झूठे मामलों में फंसा रही है। भाजपा ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कर दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News