Home खास ख़बरें जीएसटी काउंसिल का बड़ा निर्णय: ब्लैक फंगस की दवा पर नहीं लगेगा...

जीएसटी काउंसिल का बड़ा निर्णय: ब्लैक फंगस की दवा पर नहीं लगेगा जीएसटी

25
0

उमेश कुमार, नई दिल्ली

कोरोना से जुड़ी राहत सामग्री के लिए बनी मंत्री समूह की सिफारिश को जीएसटी काउंसिल ने स्वीकार कर लिया है। इस स्वीकारोक्ति के साथ जीएसटी काउंसिल ने कोरोना से जुड़ी कुछ दवाइयों को कर मुक्त तो कुछ पर कर की दर 5 फीसदी करने का एलान किया है। इस बाबत ब्लैक फंगस की दवा को कर मुक्त कर दिया गया है। लेकिन काउंसिल ने कोरोना की दवाई पर 5 प्रतिशत जीएसटी बरकरार रखा है। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जीएसटी काउंसिल के निर्णयों की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि ब्लैक फंगस की दवा की खरीददारी पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। सरकार ने इसे टैक्स फ्री कर दिया है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना की 75 फीसदी दवा अब केंद्र सरकार खरीद रही है। राज्य सरकारों को केंद्र की ओर से यह दवा मुफ्त उपलब्ध कराई जाएगी। ऐसे में कोरोना दवा पर 5 प्रतिशत जीएसटी बरकरार रखने से जनता को कोई नुकसान नहीं होगा। जनता को यह दवा सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में मिलेगी।

उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना के ईलाज के लिए इस्तेमाल की जा रही दवाओं पर भी जीएसटी घटा दिया गया है। वित्त मंत्री के मुताबिक रेमेडेसिवर दवा पर भी जीएसटी 12 प्रतिशत से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है। इतना ही नहीं आक्सीमीटर, मेडिकल ग्रेड की आक्सीजन, टेंप्रेचर चेक इक्यूपमेंट, हैंड सैनिटाइजर और वेंटिलेटर पर भी जीएसटी घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।

एंबुलेंस पर भी घटी जीएसटी की दरें

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि कोरोना काल में एंबुलेंस की भुमिका बहुत ही महत्वपूर्ण रही। सरकार ने एंबुलेंस सेवा को राहत प्रदान करने के लिए इसकी जीएसटी दरें घटाने का फैसला किया है। एंबुलेंस पर जीएसटी की दरें 28 प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत कर दिया गया है।

Previous articleभगवान करें किसी को अस्पताल न आना पडें, कोविड अस्पताल भविष्य की तैयारी: मुख्यमंत्री चौहान
Next articleजम्मू-कश्मीर के सोपोर में आतंकी हमला, 2 पुलिसकर्मी शहीद, 2 नागरिकों की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here