Home » जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा पर जानलेवा हमले की कोशिश, सभा में ‘स्मोक बम’ से धमाका, हमलावर गिरफ्तारं

जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा पर जानलेवा हमले की कोशिश, सभा में ‘स्मोक बम’ से धमाका, हमलावर गिरफ्तारं

टोक्यो: जापान के वाकायामा शहर में प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा पर जानलेवा हमले की कोशिश की गई. एक सभा के दौरान जब वह भाषण दे रहे थे, तो उनके पास एक पाइप जैसी वस्तु फेंकी गई. समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने जापानी मीडिया के हवाले से बताया कि घटनास्थल पर विस्फोट जैसी आवाज सुनाई दी और धुंआ भर गया. सुरक्षा अधिकारियों ने तत्परता दिखाते हुए प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा को मौके से सुरक्षित रेक्स्यू कर लिया. राहत की खबर यह है कि जापानी पीएम को चोट नहीं आई है. इस घटना के बाद सुरक्षा अधिकारियों ने पश्चिमी वाकायामा से एक संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लिया है. जापानी मीडिया एनएचके के अनुसार, प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा जहां भाषण दे रहे थे वहां, जोरदार विस्फोट की आवाज आई, जिससे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई. पीएम की सुरक्षा टीम ने उन्हें कवर किए रखा और घटनास्थल से सुरक्षित बाहर निकाल लिया. रिपोर्ट के मुताबिक, फुमियो किशिदा पश्चिमी जापानी शहर वाकायामा में एक मछली पकड़ने वाले बंदरगाह का दौरा करने के बाद अपना भाषण शुरू कर रहे थे, तभी इस घटना को अंजाम दिया गया. मौके पर तैनात पुलिस ने एक संदिग्ध को भी गिरफ्तार कर लिया है.
लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के नताओं ने दी प्रतिक्रिया
इस हमले के बाद फुमियो की पार्टी लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) के नेताओं की ओर से प्रतिक्रिया आने लगी है. एलडीपी की चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष मोरियमा ने NHK से कहा ‘मैं यह खबर सुनकर हैरान रह गया. यह अत्यंत खेदजनक है कि चुनावी कैम्पेन के दौरान ऐसा कुछ हुआ. चुनाव तो लोकतंत्र की नींव है. एलडीपी महासचिव मोतेगी ने कहा ‘मैंने इस घटना के बाद प्रधानमंत्री किशिदा से संपर्क करने की कोशिश की. मुझे बताया गया था कि उन्हें कोई चोट नहीं आई है. मैं इस हिंसक कृत्य की कड़ी निंदा करता हूं.’
पिछले साल पूर्व पीएम शिंजो आबे को भाषण के दौरान मारी गई थी गोली
यह हमला पिछले साल मारे गए पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की घटनाओं को ताजा करती है. इसी तरह जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे भी भाषण दे रहे थे, तभी उन्हें सीने में दो गोली मारी गई थी. गोली लगने के बाद शिंजो आबे का नारा मेडिकल यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में इलाज चला, लेकिन 6 घंटे बाद उनकी मौत हो गई थी. डॉक्टरों ने बताया था कि हमले के बाद उन्हें हार्ट अटैक भी आया था और ज्यादा खून बहने के चलते उनकी मौत हो गई थी. शिंजो आबे पर जानलेवा हमला करने वाले को भी सुरक्षा एजेंसियों ने मौके से पकड़ लिया था.

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd