Home खास ख़बरें कोरोना महामारी के बीच भारतीय रेलवे ने कमाई का बनाया रिकॉर्ड, माल...

कोरोना महामारी के बीच भारतीय रेलवे ने कमाई का बनाया रिकॉर्ड, माल ढुलाई के क्षेत्र में किया शानदार काम

48
0

नई दिल्‍ली। देश में कोरोना की दूसरी लहर बड़ी चुनौतियों के बावजूद भारतीय रेलवे ने माल ढुलाई के क्षेत्र में शानदार काम किया है। खासकर मई, 2021 का महीना माल ढुलाई के आंकड़े कमाई और लोडिंग की दृष्टि से बहुत ही शानदार रहा है। भारतीय रेलवे ने जनवरी, 2021 में 11.979 करोड़ टन माल ढुलाई की थी।

उस वक्‍त यह आंकड़ा किसी एक महीने माल ढुलाई का सर्वाधिक आंकड़ा था। इससे पहले रेलवे ने मार्च, 2019 में 11.974 करोड़ टन माल की ढुलाई का रिकॉर्ड बनाया था। रेल मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पिछले कुछ महीनों से भारतीय रेलवे की माल ढुलाई के आंकड़े साल भर पहले के समान महीने के आंकड़े को पार कर रहे हैं। ऐसे में इस साल की कुल ढुलाई पिछले साल से अधिक रहने की संभावना है।

कोरोना में रेलवे कई रियायतें और छूट दी

रेलवे के कुछ मंडलों ने माल गाड़ियों की स्‍पीड 50 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक दर्ज की है। भौगोलिक स्थितियों के कारण कुछ सेक्शन माल गाड़ियों को अच्छी गति दे रहे हैं। मई, 2021 में माल गाड़ियों की औसत स्‍पीड 45.6 किलो मीटर प्रति घंटे रही, जो समान अवधि की गति 36.19 किलो मीटर प्रति घंटे की तुलना में 26 फीसद अधिक है। भारतीय रेल ने कोरोना महामारी का उपयोग अवसर के रूप में किया है, ताकि दक्षता और प्रदर्शन में चौतरफा सुधार हो सके।

कोरोना महामारी का उपयोग भारतीय रेलवे द्वारा अपनी सर्वांगीण क्षमता और प्रदर्शन में सुधार करने के अवसर के रूप में किया गया है। इस सिलसिले में रेलवे ने नए व्यवसाय को आकर्षित करने और अन्य मौजूदा ग्राहकों को प्रोत्साहित करने के लिए रेल मंत्रालय ने लोहा और इस्पात, सीमेंट, बिजली, कोयला, ऑटोमोबाइल और रसद सेवा प्रदाताओं के साथ बैठकें की थीं। इसके तहत रेलवे की माल ढुलाई को आकर्षक बनाने के लिए कई रियायतें और छूट दी गई थी।

Previous articleप्रीबायोटिक फूड है सफेद प्याज, गर्मियों में अपनी डाइट में शामिल करें, मिलेंगे इतने फायदे कि हो जाएंगे हैरान
Next articleटीकाकरण नीति पर केंद्र और राज्य सरकारों से सुप्रीम कोर्ट ने दो हफ्ते में हलफनामा दाखिल करने को कहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here