Home खास ख़बरें प.बंगाल चुनाव बाद हिंसा मामले की सुनवाई से एक और जज अलग,...

प.बंगाल चुनाव बाद हिंसा मामले की सुनवाई से एक और जज अलग, सुनवाई टली

40
0

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट में पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हिंसा की एसआईटी जांच करने की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई मंगलवार को फिर टल गई। मंगलवार को एक और जज ने इस मामले की सुनवाई से खुद को अलग कर लिया है। जस्टिस अनिरुद्ध बोस ने खुद को सुनवाई से अलग कर लिया। उसके बाद जस्टिस हेमंत गुप्ता की अध्यक्षता वाली बेंच ने इस याचिका को दूसरी बेंच के समक्ष लिस्ट करने का आदेश दिया। इस मामले की सुनवाई आज ही हो सकती है।

इसके पहले अभी 18 जून को भी जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने इस मामले की सुनवाई से खुद को अलग कर लिया था। हिंसा में मारे गए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिवार के अलावा कई लोगों ने याचिकाएं दाखिल की हैं। पश्चिम बंगाल की एक 60 वर्षीय महिला ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने चार मई की रात को उसके पोते के सामने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

याचिका में चुनाव बाद की हिंसा और बलात्कार की घटनाओं की एसआईटी से जांच की मांग की गई है। याचिका में कहा गया है कि जिस तरह गोधरा कांड की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी का गठन किया था, उसी तरह पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद की हिंसा और बलात्कार की घटनाओं की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जाय।

पश्चिम बंगाल में मतगणना के बाद दो बीजेपी कार्यकर्ताओं, अभिजीत सरकार और हरेन अधिकारी की हत्या की सीबीआई जांच की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

Previous articleपूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा पर दो करोड़ जुर्माना, छवि धूमिल करने का आरोप
Next articleखुद गिरेगी महाराष्ट्र सरकार, तब हम विकल्प देंगे : देवेंद्र फडणवीस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here