Home खास ख़बरें तीसरी लहर में दिल्ली में रोज 45000 मामले आने का अनुमान

तीसरी लहर में दिल्ली में रोज 45000 मामले आने का अनुमान

17
0
  • आईआईटी दिल्ली की रिपोर्ट ने बढ़ाई देश की राजधानी की चिंता

नई दिल्ली ब्यूरो,

देश अभी कोरोना की दूसरी लहर से ठीक से उबर भी नहीं पाया है कि लोगों में तीसरी लहर को लेकर चर्चा होने लगी है। आईआईटी दिल्ली ने तो देश की राजधानी में रहने वालों को इसकी चिंता और बढ़ा दी है। आईआईटी ने अपनी रिपोर्ट में तीसरी लहर को लेकर कुछ आंकड़े बताए है। इस रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर में दिल्ली में रोज 45,000 मामले सामने आएंगे। इसमें से 9000 लोगों को अस्पतालों में बेड की जरूरत पड़ेगी।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इस हालात से निपटने के लिए 944 मीट्रिक टन आक्सीजन की जरूरत पड़ेगी। कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए दिल्ली सरकार को 20-100 टन की क्षमता वाले 20-25 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंकर खरीदने होंगे। सनद रहे कि दिल्ली में अब तक 14.23 लाख लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 13.85 लाख लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 23,951 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं 14,581 मरीजों का इलाज चल रहा है।

देश में रिकवरी रेट बढ़कर हुआ 90.80 प्रतिशत

कोरोना के मामले में देश में रिकवरी रेट काफी उत्साहजनक हो गया है। कोरोना मरीजों के ठीक होने वालों का प्रतिशत 90.80 हो गया है। वहीं कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या गिरकर आज 22,28,724 हो गयी है। पिछले 24 घंटे में सक्रिय मामलों की संख्या में कुल 1,14,428 की कमी आयी है। यह अब देश के कुल कोविड पॉजिटिव मामलों का केवल 8.04 प्रतिशत है।

इतना ही नहीं दैनिक नए मामलों की संख्या में भी लगातार गिरावट देखने को मिलने लगी है। लगातार 13वें दिन कोविड-19 के नये मामलों की संख्या तीन लाख से कम दर्ज की गयी। पिछले दो दिनों से नये मामलों की संख्या दो लाख से कम दर्ज की जा रही है। पिछले 24 घंटे में 1,73,790 नये मामले सामने आए हैं। साथ ही इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की दैनिक संख्या कोविड-19 के दैनिक नए मामलों से लगातार 16वें दिन ज्यादा हैं। पिछले 24 घंटे में बीमारी से 2,84,601 लोग स्वस्थ हुए हैं। पिछले 24 घंटे में दैनिक नये मामलों की तुलना में बीमारी से 1,10,811 ज्यादा लोग स्वस्थ हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here