Home खास ख़बरें चक्रवाती तूफान : केरल के कई हिस्सों में भीषण बारिश और जलभराव,...

चक्रवाती तूफान : केरल के कई हिस्सों में भीषण बारिश और जलभराव, NDRF की टीमें तैनात

20
0

नई दिल्ली। मौसम विभाग के मुताबिक, अरब सागर में उथल-पुथल चल रही है। दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिसके अरब सागर से सटे लक्षद्वीप की ओर बढ़ने की आशंका है। विभाग ने रविवार को चक्रवाती तूफान के जन्म की भविष्यवाणी की है। इसका असर देश के कई हिस्सों केरल, कर्नाटक, गुजरात, तमिलनाडु और महाराष्ट्र में देखने को मिल सकता है। वहीं, चक्रवात के चलते केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश और आंधी तूफान की स्थिति बनी हुई है। कोच्चि में अचानक बाढ़ से हालात हो गए हैं। कई जगहों पर जलभराव हो गया है। चेलेनम, कन्नमाली, मनस्सेरी और एडवानक्कड़ में घरों में पानी घुस गया है।

चक्रवाती तूफान की अधिक जानकारी देते हुए केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि 16 मई तक राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश और आंधी-तूफान रहेगा। चक्रवात के बनने की संभावना के कारण भारी वर्षा, तेज हवाएं और समुद्र के तटों में भीषण लहरें उठेंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज रात महत्वपूर्ण है क्योंकि भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने रेड और यलो अलर्ट जारी किया हुआ है। चक्रवात के चलते यदि भारी बारिश जारी रहती है, तो निचले इलाकों में अचानक बाढ़ और जलभराव की संभावना बन सकती है।

केरल में भारी बारिश को देखते हुए एर्नाकुलम जिले में स्थित भूतथनकेट्टू बांध के चार गेट खोल दिए गए हैं। गेट खोले जाने के बाद बांध में से बहुत तेजी से पानी बाहर निकल रहा है। इसके चलते राज्य की छोटी नदियों में बाढ़ की स्थित बन सकती है।

दक्षिण केरल के कई इलाकों में शुक्रवार को भारी बारिश की सूचना मिली है। सेंट्रल वाटर कमीशन के मुताबिक, दक्षिण केरल के कई हिस्सों में आज सुबह साढ़े आठ बजे भारी बारिश हुई है।

नेशनल डिजास्टर रिस्पोंस फोर्स ने इन इलाकों में अपनी टीमें तैनात कर दी हैं। नेशनल डिजास्टर रिस्पोंस फोर्स के डीजी एसएन प्रधान ने कहा कि चक्रवाती तूफान तौकते को लेकर केरल, कर्नाटक, गुजरात, तमिलनाडु और महाराष्ट्र के लिए 53 टीमें निर्धारित की गई हैं, जिनमें से 24 टीमें पहले से ही तैनात की जा चुकी हैं और 29 टीमें स्टैंडबाय पर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here