Home » उत्तर प्रदेश में अब कोई अपराधी-माफिया किसी को डरा-धमका नहीं सकता: सीएम योगी

उत्तर प्रदेश में अब कोई अपराधी-माफिया किसी को डरा-धमका नहीं सकता: सीएम योगी

अब कोई पेशेवर अपराधी और माफि या किसी को डरा-धमका नहीं सकता है। उत्तर प्रदेश आज आपको बेहतरीन कानून व्यवस्था की गारंटी देता है। पहले कहा जाता था, जहां से अंधेरा शुरु हो, वहां से उत्तर प्रदेश शुरू हो जाता है। 75 में से 71 जनपद अंधेरे में होते थे। आज किसी जनपद के नाम से यूपी में डरने की आवश्यकता नहीं है। यूपी की पहचान के जो लोग संकट हुआ करते थे आज वह स्वयं संकट में हैं। हम अब उत्तर प्रदेश पर लगे दंगे के राज्य के कलंक को मिटा चुके हैं। आज यूपी के गांवों में स्ट्रीट लाइट्स जगमगा रही हैं। उत्तर प्रदेश सरकार आप सभी निवेशकों की पूंजी को सुरक्षित रखने में सक्षम है। यह बात मंगलवार को लखनऊ के लोकभवन में टेक्सटाइल पार्क के क्षेत्र में उद्यमियों के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कही। अतीक-अशरफ  की हत्या और असद के एनकाउंटर के बाद पहली बार उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का माफि याओं पर यह बयान सामने आया है।

लखनऊ-हरदोई में 1 हजार एकड़ में विस्तृत टेक्सटाइल पार्क की स्थापना :

मुख्यमंत्री योगी मंगलवार को पीएम मेगा एकीकृत वस्त्र एवं परिधान (पीएम मित्र) योजना के अंतर्गत लखनऊ-हरदोई में एक हजार एकड़ में विस्तृत टेक्सटाइल पार्क की स्थापना को लेकर लोकभवन में आयोजित एमओयू के कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान केंद्रीय वाणिज्य, उद्योग एवं कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल और केंद्रीय कपड़ा राज्य मंत्री विक्रम जरदोश मौजूद थीं। कार्यक्रम में अपर सचिव टेक्सटाइल, भारत सरकार रोहित कंसल और हथकरघा एवं वस्त्र उद्योग, एमएसएमई, उत्तर प्रदेश सरकार के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के बीच एमओयू हस्तांतरित हुआ। यह पार्क केंद्र और राज्य सरकार के सहयोग से तैयार हो रहा है, जिसमें निजी सहभागिता भी होगी। निजी निवेशकों में आदित्य बिड़ला ग्रुप, मेसर्स जीएसएल स्पिनर्स प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स अजुम डेनिम कार्ट एलएनपी, मेसर्स अभिकिम टेक्सटाइल लिमिटेड, मेसर्स एसवीएम, मेसर्स जोसिस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स एमएलके एक्सपोर्ट लिमिटेड और मेसर्स पाथ थ्रेड प्राइवेट लिमिटेड के बीच भी एमओयू हस्तांतरित हुए।

2017 से पहले उप्र दंगे के लिए जाना जाता था :

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश दंगे के लिए जाना जाता था, हर दूसरे दिन दंगा होता था। 2012 से 17 के बीच 700 से ज्यादा दंगे हुए हैं। 2017 से 2023 के बीच यूपी में एक भी दंगा नहीं हुआ। एक भी जगह कफ्र्यू लगाने की नौबत नहीं आने पाई। उत्तर प्रदेश बेहतरीन कानून व्यवस्था की गारंटी देता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उप्र अपने औद्योगीकरण और नगरीय व्यवस्था की दृष्टि से भी देश का एक महत्वपूर्ण प्रदेश माना जाता था, लेकिन एक कालखंड ऐसा भी आया जिसमें यूपी की इस पहचान को पूरी तरह समाप्त सा कर दिया था। हैंडलूम और पावरलूम को उचित प्रोत्साहन ना मिलने के कारण वह भी दम तोडऩे लगे थे। विगत 9 वर्षो के अंदर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने जो प्रगति की है उसका लाभ लगभग 6 वर्ष के अंदर यूपी को सर्वाधिक मिला है।

Related News

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd