Home दिल्ली डॉक्टर्स फॉर यू संस्था ने महज 10 दिन में तैयार किया, दिल्ली...

डॉक्टर्स फॉर यू संस्था ने महज 10 दिन में तैयार किया, दिल्ली का पहला ऑक्सीजन प्लांट

33
0

CWG गांव कोविड केयर सेंटर में शुरू हुआ ऑक्सीजन प्लांट हर दिन 1500 लीटर से ज्यादा ऑक्सीजन का उत्पादन करेगा. CWG कोविड केयर सेंटर के 15 बेड्स को डायरेक्ट ऑक्सीजन प्लांट से निकलने वाली ऑक्सीजन से पाइप लाइन के ज़रिए जोड़ा गया है. 

देश की राजधानी में ऑक्सीजन और बेड्स की किल्लत के बीच एक खुशखबरी ने दस्तक दी है. पूर्वी दिल्ली में स्थित कॉमनवेल्थ गांव के कोविड केयर सेंटर में ऑक्सीजन प्लांट लगाया गया है. 

कोरोना महामारी के समय में डॉक्टर फ़ॉर यू संस्था ने अलग-अलग देशों से उपकरण जुटाकर ये प्लांट तैयार किया है. दिल्ली का CWG गांव (कोविड सेंटर) पहला ऐसा सेंटर बन गया है जहां डॉक्टर्स फॉर यू संस्था की तरफ से दिल्ली का पहला ऑक्सीजन प्लांट  बेहद कम समय में तैयार किया गया है. सोमवार से यहां पर ऑक्सीजन बनना भी हो गया है.

CWG कोविड केयर सेंटर में 460 बेड्स पर कोरोना मरीज़ों का इलाज किया जा रहा है. इनमें से करीब 250 बेड्स ऑक्सीजन से संचालित हैं. दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों और कोरोना सेंटर पर ऑक्सीजन की कमी के मद्देनजर ऑक्सीजन प्लांट लगाने का फैसला लिया गया है. CWG के अलावा डॉक्टर्स फ़ॉर यू कई अन्य कोविड केयर सेंटर पर भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने की तैयारी कर रही है.

डॉक्टर्स फ़ॉर यू के प्रेसिडेंट रजत जैन के मुताबिक ”CWG में महज़ 10 दिनों में ऑक्सीजन प्लांट तैयार किया गया है. ऑक्सीजन प्लांट की लागत करीब 75 लाख रुपए आई है. ऑक्सीजन प्लांट के ज्यादातर उपकरण फ्रांस से मंगवाए गए हैं, जो 24 घंटे ऑक्सीजन उत्पादन की क्षमता रखता है. 

CWG गांव कोविड केयर सेंटर में शुरू हुआ ऑक्सीजन प्लांट हर दिन 1500 लीटर से ज्यादा ऑक्सीजन का उत्पादन करेगा. CWG कोविड केयर सेंटर के 15 बेड्स को डायरेक्ट ऑक्सीजन प्लांट से निकलने वाली ऑक्सीजन से पाइप लाइन के ज़रिए जोड़ा गया है.

वहीं, डॉक्टर्स फॉर यू से जुड़े डॉ. सैयद ने ‘आजतक’ से बातचीत में कहा कि यहां इलाजरत मरीजों को ऑक्सीजन की कोई दिक्कत न हो, इसलिए यह प्लांट तैयार किया गया है. डॉ. सैयद ने बताया कि इस प्लांट के जरिए हर दिन 47 लीटर वाले  32 डी-टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर भरे जा सकते हैं. डॉक्टर सैयद ने कहा कि कोरोना के इस स्ट्रेन में मरीजों को ऑक्सीजन की काफी जरूरत महसूस हो रही है और उस जरूरत को इस प्लांट के जरिए पूरा किया जा सकता है.

डॉक्टर्स फ़ॉर यू की तरफ से बताया गया कि ऑक्सीजन प्लांट से जुड़ी अनुमति लेने में राज्य सरकार और केंद्र सरकार से भरपूर मदद भी मिली है. आपको बता दें कि दिल्ली में डॉक्टर्स फ़ॉर यू संस्था को दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में कोविड केयर सेंटर बनाने और चलाने की ज़िम्मेदारी दी गयी है. संस्था द्वारा मेडिकल स्टाफ से लेकर ज़रूरी मेडिकल उपकरण और कोविड केयर सेंटर पर मरीज़ के ट्रीटमेंट की पूरी ज़िम्मेदारी होती है. दिल्ली के सभी कोविड सेंटर पर कुछ ऑक्सीजन बेड्स भी होते हैं. 

Previous articleमुख्यमंत्री के नाम पर पार्टी में एक राय नहीं, हेमंत बिस्वा सरमा की दावेदारी भी मजबूत
Next articleमध्‍य प्रदेश ने बनाया स्पेशल पोर्टेबल अस्‍पताल, ऑक्‍सीजन भी यहीं बनेगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here