Home दिल्ली 24 घंटे में 395 लोगों की मौत, ऑक्सीजन संकट के बीच दिल्ली...

24 घंटे में 395 लोगों की मौत, ऑक्सीजन संकट के बीच दिल्ली में कोरोना का कोहराम

21
0

दिल्ली ऑक्सीजन और बेड्स की किल्लत से जूझ रही है. वहीं हर दिन मौतों और नए मामलों की संख्या भी बढ़ती जा रही है. बीते दिन भी दिल्ली में कोरोना के कारण 400 के करीब आधिकारिक मौतें हुईं. 

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के कारण हालात बिगड़ते जा रहे हैं. दिल्ली ऑक्सीजन और बेड्स की किल्लत से जूझ रही है वहीं हर दिन मौतों और नए मामलों की संख्या भी बढ़ती जा रही है. बीते दिन भी दिल्ली में कोरोना के कारण 400 के करीब आधिकारिक मौतें हुईं. 

24 घंटे में आए कुल केस: 24,235

•    24 घंटे में हुई कुल मौतें: 395

•    एक्टिव केस 97,977

•    कुल केस: 11,22,286

•    कुल मौतें: 15,772

ऑक्सीजन को को लेकर जारी है परेशानी 

दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत अभी तक खत्म नहीं हुई है. अस्पतालों को ऑक्सीजन के लिए अदालत का रुख करना पड़ रहा है, आम लोगों को संघर्ष के बाद भी ऑक्सीजन नहीं मिल रही है. बीते दिन दिल्ली हाईकोर्ट में इस मसले पर सुनवाई हुई, तो केंद्र-राज्य सरकार में तीखी बहस हो गई. दिल्ली सरकार ने केंद्र पर लापरवाही का आरोप लगाया है.

अब दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से रिकॉर्ड मांगा है कि वो किस राज्य को ऑक्सीजन दे रही है और उनकी जरूरत क्या है. दिल्ली हाईकोर्ट में आज भी इसपर सुनवाई होनी है.  

अब दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से रिकॉर्ड मांगा है कि वो किस राज्य को कितना ऑक्सीजन दे रही है और उनकी जरूरत क्या है. दिल्ली हाईकोर्ट में आज भी इसपर सुनवाई होनी है. 

वैक्सीनेशन को लेकर भी दिल्ली में संकट

एक मई से 18 साल से अधिक उम्र वालों का वैक्सीनेशन शुरू होना है. लेकिन दिल्ली सरकार का कहना है कि उनके पास वैक्सीन नहीं है, ऐसे में वैक्सीनेशन शुरू होना मुश्किल है. दूसरी ओर दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी से रिपोर्ट तलब की है, जिसमें उन्होंने वैक्सीनेशन की तैयारियों का ब्यौरा मांगा है.  

कोरोना का संकट तिहाड़ जेल में भी फैल रहा है. तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कुछ कैदियों को तुरंत पैरोल देने की मांग की है. बता दें कि कोविड की दूसरी लहर में तिहाड़ में अबतक कोरोना के कारण चार कैदियों की मौत हो गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here