छ्त्तीसगढ़ की तीजन बाई और ममता चंद्राकर को राष्ट्रपति के हाथो मिलेगा संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

राष्ट्रीय संगीत नृत्य और नाटक अकादमी नई दिल्ली की सामान्य परिषद ने पुरस्कारों की घोषणा की है। संगीत नाटक अकादमी ने देशभर से मिली प्रविष्टियों में से अलग-अलग श्रेणियों में 128 श्रेष्ठ कलाकारों और संगीत साधकों को पुरस्कारों के लिए चुना है। यह पुरस्कार 2019, 2020 और 2021 के लिए दिए जाएंगे। जहां राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू दिल्ली में आयोजित होने वाले एक विशेष समारोह में देश के अन्य कलाकारों के साथ छत्तीसगढ़ राज्य की इन दोनों विभूतियों ममता चंद्राकर और तीजन बाई को सम्मानित करेंगी। संगीत नाटक अवॉर्ड के रूप में ममता चंद्राकर को 1 लाख रुपए और ताम्रपत्र प्रदान किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:  केंद्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस का प्रदेश व्यापी धरना , एलआईसी ऑफिस के सामने किया प्रदर्शन
Sunday Special Story: Story of Padmashri Mamta Chandrakar | बेटियों का मंच  में गाना अच्छा नहीं मानते थे लोग, उस दौर से निकलकर छत्तीसगढ़ की सुर कोकिला  बनीं पद्मश्री ...
ममता चंद्राकर ।

बता दें कि ममता चंद्राकर छत्तीसगढ़ की मशहूर लोक गायिका हैं। छत्तीसगढ़ के राज्य गीत अरपा पैरी के धार को स्वर देने वाली लोक गायिका पद्मश्री ममता चंद्राकर को राष्ट्रपति के हाथों ये पुरस्कार मिलेगा। साथ ही मशहूर पंडवानी गायिका तीजन बाई को भी संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

Durg Know Who Is Pandwani Singer Teejan Bai Whose Character Will Play Vidya  Balan In Film ANN | Teejan Bai Photos: तीजन बाई पर आधारित फिल्म की जल्द  शुरू होगी शूटिंग, जानिए
तीजन बाई ।

खैरागढ़ संगीत कला विश्वविद्यालय की कुलपति ममता चंद्राकर वर्तमान में राजनांदगांव जिले में निवासरत हैं। उन्हें 2016 में पद्मश्री से सम्मानित किया जा चुका है। वहीं तीजन बाई वर्तमान में भिलाई स्थित गनियारी में निवासरत हैं। तीजनबाई को पद्मविभूषण से सम्मानित किया जा चुका है। फेलोशिप के लिए देशभर से 10 कलाकारों के नाम शामिल किए गए हैं। तीजन बाई को हाल ही में श्री सत्य साईं शक्ति वुमन आफ एक्सीलेंस अवॉर्ड-2022 से सम्मानित किया जा चुका है।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News