शिवसेना छत्तीसगढ़ में बाहरी लोगो के खिलाफ चलाएंगी अभियान

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

शिवसेना ने सियासी बखेड़ा शुरु करने का एक नया मुद्दा खड़ा कर दिया हैं । शिवसेना के स्थानीय नेताओं ने प्रदेश में अभियान चलाने का ऐलान किया है। शिवसेना छत्तीसगढ़ में स्थानीय और बाहरी लोगों के मुद्दे को लेकर सड़क पर उतरने की तैयारी में है। माना जा रहा है कि आने वाले विधानसभा चुनावों में इसे नए रूप के साथ वोटर के दिल में जगह बनाने की विवादित कोशिश शिवसेना छत्तीसगढ़ में कर सकती है।

मुंबई की तरह बाहरी लोगों को भगाने चलेगी मुहिम, नेता बोले- मूल निवासियों का  करेंगे संरक्षण | Shiv Sena Chhattisgarh said will run a movement against  outsiders - Dainik Bhaskar

पत्र जारी कर इस पर लिखा गया हैं कि – शिवसेना ने महाराष्ट्र में जिस तर्ज पर बाहरी लोगों को भगाने के लिए नारा दिया था “बजाओ पुंगी और भगाओ लुंगी, उसी के तरीके से छत्तीसगढ़ शिवसेना छत्तीसगढ़िया लोगों के मान-सम्मान और उनके हक अधिकार, संस्कृति, सभ्यता और खानपान, रहन-सहन की रक्षा करने के लिए गांव-गांव में संरक्षण के लिए अभियान चलाएगी । सरकार के नियम के अनुसार छत्तीसगढ़ के मूल निवासी की जो परिभाषा दी गई है उसके तहत अभियान चलाएगी।

ये भी पढ़ें:  वंदेभारत एक्सप्रेस ट्रेन पर बदमाशों ने किया पथराव , एसी कोच का विंडो हुआ क्षतिग्रस्त

शिवसेना छत्तीसगढ़ के प्रदेश प्रमुख आनंद सिंह मल्होत्रा ने कहा- उद्धव बाला साहेब ठाकरे की शिवसेना द्वारा छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण को रोकने का भी अभियान चलाया जाएगा। मल्होत्रा ने कहा कि हमारा संगठन प्रदेश में 80% समाज सेवा 20% राजनीति करता है। पिछले 36 सालों से काम किए जा रहे हैं। अब राष्ट्रीय मुख्यालय मुंबई, दादर, शिवसेना भवन से दिए गए निर्देश के अनुसार नए सिरे से काम होंगे। आधिकारिक बयान में शिवसेना ने कहा है- मुंबई से मिले निर्देशों के बाद अब पूरे प्रदेश में धर्मांतरण के खिलाफ आन्दोलन होंगे। प्रशासन और आम लोगों को जानकारी दी जाएगी। जो भी जाति समाज के लोग हिन्दू धर्म को छोड़कर अन्य धर्मों में गए हैं उन्हें हिन्दू धर्म में वापस लाने के अभियान होंगे। जो लोग शिवसेना के नाम पर लोगों को धमकाते हैं ऐसे तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की शिकायत करेंगे।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News