छत्तीसगढ़ में पहली बार हेलीकॉप्टर क्रैश में 2 कैप्टन की मौत, नहीं मिला कोई चश्मदीद गवाह, पढ़ें- ताजा अपडेट.!

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

रायपुर: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर हेलीकॉप्टर क्रैश मामले की जांच शुरू हो गई है। गुरुवार को हुई दुर्घटना के बाद देर रात रायपुर आईजी, छत्तीसगढ़ खुफिया विभाग के आईजी, रायपुर कलेक्टर व एसएसपी जांच के लिए घटना स्थल पहुंचे। रायपुर पुलिस आईजी ओपी पाल ने कहा कि शुरुआती जांच में दुर्घटना का कोई चश्मदीद गवाह सामने नहीं आया है। रात 9 बजकर 10 मिनेट पर ही दुर्घटना के बाद देर रात तक अधिकारियों की टीम जांच करती रही। आज सुबह हादसे में मृत पायलट गोपाल कृष्ण पंडा और एपी श्रीवास्तव दोनों पायलट के शवों का पोस्टमार्टम किया गया।

ये भी पढ़ें:  Sarguja News: सरगुजा की अपर कलेक्टर ने अपशब्द कहे, वीडियो वायरल, बोलीं-आपको होश नहीं.!


कैप्टन गोपाल कृष्ण पंडा का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ रायपुर में ही किया जाएगा। जबकि एपी श्रीवास्तव दिल्ली के रहने वाले हैं, उनके पार्थिव शरीर को दिल्ली भेजा जाएगा। बता दें कि दुर्घटना के बाद रात्री कालीन हवाई सेवाओं को अनुमति नहीं दी गई। हालांकि शुक्रवार को रायपुर से हवाई सेवाएं सामान्य रहेंगी। बता दें कि छत्तीसगढ़ में यह पहला हेलीकॉप्टर क्रैश हादसा है, जिसमें दो कैप्टन पायलट की जान चली गई। दोनो कैप्टन काफी अनुभवी थे। राज्य के कई प्रमुख नेताओं के साथ अच्छी उड़ाने भर चुके हैं। इस दुर्घटना में कैप्टन गोपाल कृष्ण पंडा और कैप्टन एपी श्रीवास्तव की मौत हुई है। एक दिल्ली के तो एक छत्तीसगढ़ के ही मूलत: रहने वाले थे। दुर्घटना के पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ,राज्यपाल अनुसूइया उइके, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक समेत कई जनप्रतिनिधियों ने दु:ख व्यक्त किया है।

ये भी पढ़ें:  Sarguja News: सरगुजा की अपर कलेक्टर ने अपशब्द कहे, वीडियो वायरल, बोलीं-आपको होश नहीं.!


2 टीमें करेंगी जांच
बता दें कि घटना के बाद हेलीकॉप्टर के ब्लैक बाक्स को कब्जे में ले लिया गया है। फिलहाल हादसे की वजह हेलीकॉप्टर में तकनीकि खराबी बताई जा रही है। देर रात तक एयर पोर्ट पर आला अधिकारियों का जमावड़ा रहा। हेलीकॉप्टर मलबे में तब्दील हो गया है। अलग अलग एंगल से मामले की जांच की जा रही है। दुर्घटना के बाद छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से जारी बयान में बताया गया कि डीजीसीए (नगर विमानन महानिदेशालय) के अलावा राज्य की टीम भी दुर्घटना की जांच करेगी।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News