Home छत्तीसगढ़ पिछले 24 घंटे में 171 नए मरीज मिले, अब तक 89 हजार...

पिछले 24 घंटे में 171 नए मरीज मिले, अब तक 89 हजार लोग ठीक होकर लौटे घर; जिले में अभी भी 3449 एक्टिव केस

15
0

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में कोरोनावायरस का खतरा अभी टला नही है। अभी 3449 से ज्यादा एक्टिव मरीज हैं जिनका अलग-अलग कोविड अस्पताल और होम आइसोलेशन में इलाज जारी है। जिले में अब तक 1681 लोगों की मौत भी हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में यहां 171 नए मरीज मिले हैं। नए मरीजों की इतनी कम संख्या होने में दो महीने लग गए । इससे पहले 15 मार्च 2021 को जिले में 154 नए मरीज मिले थे, जिसके बाद दूसरी लहर ने नए मरीजों का ग्राफ पहले के सभी रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

पिछले दो दिनों में कुल 4955 के सैंपल लिए गए थे, जिनकी जांच करने पर 294 सैंपल पॉजिटिव मिले। नए मरीजों से जिले में कुल मरीजों का आंकड़ा 94 हजार 228 हो गया है। इसमें से 89 हजार 098 की रिकवरी और 1681 की मौत हो जाने से एक्टिव मरीजों की संख्या अब 3449 हो गई है। कुल मौतों में रविवार की 6 और सोमवार की 8 मौतें भी शामिल हैं। जिले में मौतों की संख्या अब भी औसतन 10 बनी हुई है।

पिछले चार दिनों से राहत
14 मई से जिले में होने वाली कुल कोरोना मौतों के आंकड़ों में भी गिरावट दर्ज हुई है। पिछले चार दिनों में यहां कुल 29 लोगों ने दौरान इलाज दम तोड़ दिया। जबकि इससे पहले की चार दिनों में दम तोड़ने वालों की संख्या 91 थी। वर्तमान में मौतों के आंकड़े में भी गिरावट भी हो रही है।

एक फीसदी और कम हुई जिले में संक्रमण की दर

संक्रमण दर सोमवार को फिर एक % गिर गई। कुल जांचे गए 3069 सैंपलों में 5.5 % सैंपल संक्रमित मिले। एक दिन पहले रविवार को संक्रमण दर 6 % मिली थी। इससे पहले चले तो यह 7 % के आस-पास थी। अब 5.5 % पर पहुंच गई है।

कलेक्टर की अपील
दुर्ग कलेक्टर डॉक्टर सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे ने लोगों से अपील की है कि कोरोना संक्रमण के केस में कमी आई है। लेकिन खतरा अभी भी टला नहीं है। लॉकडाउन के दौरान सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों एवं दुकान को खोलने के लिए समय को निर्धारित किया गया है। लेकिन यह जरूरी है कि जनसामान्य भीड़ में जाने से बचें और घर पर सुरक्षित रहें। आवश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकले और मास्क लगाए, दो गज दूरी के साथ कोरोना प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करें। जिले की सीमाएं 31 मई तक सील है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here