Home खेल टोक्यो ओलंपिक : चिराग-सात्विक की बैडमिंटन जोड़ी ने दुनिया की तीसरे नंबर...

टोक्यो ओलंपिक : चिराग-सात्विक की बैडमिंटन जोड़ी ने दुनिया की तीसरे नंबर की जोड़ी को हराया, प्रणीत अपना पहला मैच हारे

46
0

टोक्यो। भारत के बैडमिंटन खिलाड़ी सात्विक साइराज रेंकी रेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दुनिया की तीसरे नंबर की जोड़ी चीनी ताइपै के यांग ली और चि लिन वांग को हराकर टोक्यो ओलंपिक में शानदार शुरूआत की। भारतीय जोड़ी का यह पहला ओलंपिक है। दुनिया की दसवें नंबर की जोड़ी चिराग और सात्विक ने तीसरी सीड ली और वांग को 21-16, 16-21, 27-25 से हराया। इस साल चिराग और सात्विक ने योनेक्स थाईलैंड ओपन, टोयोटा थाईलैंड ओपन और विश्व टूर फाइनल्स जीते थे।

मेंस सिंगल वर्ग में हालांकि भारत के बी साइ प्रणीत ओलंपिक में डेब्यू करने के साथ पहले ही मैच में इस्राइल के निचली रैंकिंग वाले मीशा जिल्बरमैन से सीधे गेम में हार गए। सात्विक और चिराग ने अपने प्रतिद्वंद्वियों का बराबरी से सामना करके एक घंटे छह मिनट में जीत दर्ज की। ब्रेक तक उन्होंने 11-7 की बढ़त बना ली थी जो बरकरार रखते हुए पहला गेम जीता। दूसरे गेम में ली और वांग ने वापसी की। तीसरे गेम में मुकाबला बराबरी का था और भारतीयों ने तनाव पर काबू पाते हुए जीत अपने नाम की।

वहीं, विश्व चैम्पियनशिप 2019 के कांस्य पदक विजेता और 15वीं रैंकिंग वाले प्रणीत को 47वीं रैंकिंग वाले मीशा ने 41 मिनट तक चले मुकाबले में प्रणीत को 21-17, 21-15 से हराया। मीशा का सामना अब दुनिया के 29वें नंबर के खिलाड़ी नीदरलैंडस के मार्क काजोउ से होगा। पहले गेम में प्रणीत ने 8-4 की बढत बना ली थी, लेकिन जिल्बरमैन ने पांच अंक सीधे लेकर पासा पलट दिया। प्रणीत ने कई सहज गलतियां भी की। जिल्बरमैन ने 15-13 की बढत बना ली जो जल्दी ही 19-14 की हो गई। इसके बाद प्रणीत वापसी नहीं कर पाये। रेलियों में भी प्रणीत उनसे काफी पीछे रहे और रफ्तार का सामना भी नहीं कर पाये। जिल्बरमैन ने आठ मैच प्वाइंट के साथ स्मैश लगाकर पहला मैच जीत लिया।

Previous articleमेघालय में अंतरराज्यीय बस टर्मिनल का अमित शाह ने किया उद्घाटन, पूर्वोत्तर के मुख्यमंत्रियों के साथ भी करेंगे बैठक
Next articleअगस्त में भारत के हाथों में होगी UNSC की कमान, तैयारी में जुटा विदेश मंत्रालय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here