Home खेल भारत-इंग्लैंड वनडे: खराब फार्म से निकलकर ऐसे बने मैच विनर, शिखर धवन...

भारत-इंग्लैंड वनडे: खराब फार्म से निकलकर ऐसे बने मैच विनर, शिखर धवन ने खोले दिल के राज

51
0

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम ने पहले वनडे मुकाबले में इंग्लैंड को 66 रनों से मात दी। इस मैच को जीतने के साथ ही भारत ने 3 मैच की सीरीज में अब 1-0 की अहम बढ़त हासिल कर ली है। इस मैच में भारतीय ओपनर शिखर धवन ने फार्म में वापसी करते हुए 98 रनों की शानदार पारी खेली। धवन ने अब इस बात का खुलासा किया है कि उन्होंने खराब फार्म से खुद को निकल कर किस तरह वापसी की।

धवन ने की शानदार वापसी

शिखर धवन पिछले कुछ समय से खराब फार्म से जूझ रहे हैं। इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज में भी धवन पहले मैच में जल्दी आउट हो गए थे, जिसके बाद उन्हें पूरी सीरीज में टीम से बाहर रहने पड़ा। वनडे सीरीज के पहले ही मैच में उन्हें एक बार फिर मौका दिया गया और उन्होंने मौके पर चौका लगाकर सबको बता दिया कि क्यों उन्हें दुनिया के सबसे बेहतरीन ओपनरों में गिना जाता है। धवन ने इस मैच में 106 गेंदों में 98 रनों की शानदार पारी खेली। हालांकि धवन अपने शतक से चूक गए, लेकिन फिर भी उन्होंने भारत की जीत की नींव रख दी थी।

धवन ने कही बड़ी बात

धवन ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दबाव हमेशा होता है और अच्छी चीज यह है कि अनुभवी खिलाड़ी होने के नाते मैं इस दबाव से अच्छी तरह निपटना जानता हूं और दूसरी चीज यह है कि अनुभवी खिलाड़ी हूं तो मैं जानता हूं कि किस तरह के विकेट पर किस तरह का शॉट खेला जाए, हम विकेट को अच्छी तरह पढ़ सकते हैं और बल्लेबाजी इकाई में इसे अच्छी तरह से बता सकते हैं। हमने यही किया और यह हमारे लिए कारगर भी रहा। उन्होंने कहा, निश्चित रूप से, जब मैं क्रीज पर जम गया तो मेरे पास खेलने के लिए काफी शॉट थे जिससे मैं रन जुटा सकता था।

टी-20 सीरीज में भी खुद को सकारात्मक बनाए रखा

पहले मैच के बाद ही टी-20 टीम से बाहर होने के बाद धवन ने कहा कि उन्होंने खुद को सकारात्मक बनाए रखा। उन्होंने कहा, जब मैं टी-20 श्रृंखला में नहीं खेल रहा था तो मैंने खुद को सकारात्मक बनाए रखा। मैंने अपनी प्रकिया, फिटनेस, जिम में ट्रेनिंग पर ध्यान लगाए रखा और सकारात्मक बना रहा। मैं हर परिस्थिति में खुद को सकारात्मक बनाए रखने की कोशिश करता हूं। मैं यही कर रहा था। मैं अपनी बल्लेबाजी पर काम कर रहा था। मैं जानता था कि अगर मौका मिला तो मैं इसका फायदा उठा लूंगा।

Previous articleमनसुख हिरेन की स्‍कॉर्पियो नहीं हुई थी गायब, सचिन वझे के ड्राइवर ने किया बड़ा खुलासा
Next articleकेरल चुनाव: थ्रिप्पुनिथुरा में अमित शाह का रोड शो, कांग्रेस को बताया ‘कंफ्यूज’ पार्टी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here