बदलें क्रिकेट के ये नियम, 1 अक्टूबर से होंगे लागू

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के नेतृत्व वाली पुरुष क्रिकेट समिति ने एमसीसी के 2017 के क्रिकेट के नियमों के तीसरे संस्करण में खेलने की स्थिति में बदलाव की सिफारिश के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने नियम में कुछ बदलाव किए हैं। नए नियम 1 अक्टूबर 2022 से लागू होंगे। इस हिसाब से टी-20 वर्ल्ड कप 2022 नए नियम के आधार पर खेले जाएंगे।

क्या हैं नए नियम ?

कैच आउट नियम: जब कोई बल्लेबाज कैच आउट होगा, तो नया बल्लेबाज स्ट्राइक पर ही खेलने आएगा। आउट होने वाले बल्लेबाज का क्रीज बदलने या नहीं बदलने से इस पर कोई प्रभाव नहीं होगा।

लार का इस्तेमाल: कोरोना वायरस आने के क्रिकेट में गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल को अस्थायी तौर पर बैन कर दिया था। तब लार के इस्तेमाल को अस्थायी तौर पर बैन कर दिया था। लेकिन क्रिकेट कमेटी ने अब इस नियम पर भी विचार किया है और इसे स्थायी रूप से बंद कर दिया है।

ये भी पढ़ें:  मोहम्मद सिराज और उमरान मलिक होंगे टीम इंडिया के साथ ऑस्ट्रेलिया रवाना

नए बल्लेबाज के लिए स्ट्राइक लेने का टाइम: किसी प्लेयर के आउट होने के बाद जब नया बल्लेबाज स्ट्राइक पर आता है, तो उसे टेस्ट और वनडे मैचों में 2 मिनट के अंदर स्ट्राइक पर आना होगा। जबकि टी-20 इंटरनेशनल में यह समय 90 सेकंड का निर्धारित किया गया है।

स्ट्राइकर बल्लेबाज के बॉल खेलने का अधिकार: यह प्रतिबंधित है, क्योंकि खेलते समय बल्ले या बैटर को पिच के अंदर ही होना चाहिए। यदि बल्लेबाज पिच से बाहर आकर खेलने को मजबूर होता है, तो वह अंपायर कॉल होगा कि वह उसे डेड बॉल घोषित करे। यदि कोई बॉल बैटर को पिच से बाहर आने पर मजबूर करती है, तो अंपायर इसे नो बॉल करार देगा।

ये भी पढ़ें:  महिला एशिया कप 2022 का हुआ आगाज , भारत और श्रीलंका के बीच होगा आज पहला मुकाबला

फील्डिंग टीम की तरफ से गलत व्यवहार: यदि कोई गेंदबाज गेंदबाजी के दौरान (रनअप) कुछ अनुचित व्यवहार या जानबूझकर कुछ गलत हरकत करता है, तो अंपायर इस पर एक्शन ले सकता है। साथ ही पेनल्टी लगाते हुए बल्लेबाजी टीम के खाते में 5 रन भी जोड़ सकता है।

नॉन-स्ट्राइकर का रनआउट होना: यदि कोई नॉन-स्ट्राइकर गेंदबाज के बॉल डालने से पहले क्रीज से बाहर निकलता है, तब गेंदबाज यदि उस बल्लेबाज को रनआउट करता है, तो इसे पहले ‘अनफेयर प्ले’ माना जाता था, लेकिन अब इसे रनआउट माना जाएगा।

डिलेवरी से पहले स्ट्राइकर की ओर गेंद फेंकना: कोई गेंदबाज गेंद डालने के लिए रनअप लेता है और डिलेवरी स्ट्राइड में आने से पहले देखता है कि बल्लेबाज क्रीज से आगे खड़ा है। तब गेंदबाज आउट करने के इरादे से स्ट्राइकर की ओर बॉल फेंकता है, तो इसे डेड बॉल करार दिया जाएगा।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News