Home खेल यूरो कप: चेक रिपब्लिक का जीत के साथ आगाज, स्कॉटलैंड को ग्रुप-D...

यूरो कप: चेक रिपब्लिक का जीत के साथ आगाज, स्कॉटलैंड को ग्रुप-D के मैच में 2-0 से हराया; चिक ने 49.7 यार्ड्स से दागा गोल

29
0

ग्लास्गो। यूरो कप में सोमवार को पहले मुकाबले में चेक रिपब्लिक मे स्कॉटलैंड को 2-0 से हरा दिया। मैच के दोनों गोल पैट्रिक चिक ने दागे। ग्लास्गो के हैंपडेन पार्क में खेले गए इस मैच में चिक ने 42वें मिनट और 52वें मिनट में गोल दाग अपनी टीम को जीत दिलाई।

चिक ने दूसरा गोल 49.7 यार्ड्स से दागा, जो कि इस टूर्नामेंट का सबसे लंबी दूरी से किया गया गोल भी है। इससे पहले यह रिकॉर्ड जर्मनी के मिडफील्डर टोर्स्टन फ्रिंग्स का था। उन्होंने 2004 यूरो में 38.6 यार्ड्स से गोल दागा था।

किसी मेजर टूर्नामेंट में दोनों टीमें पहली बार आमने-सामने थीं। दोनों टीमें अब तक एक दूसरे के खिलाफ 10 मैच खेल चुकी हैं। इसमें से 5 मैच चेक रिपब्लिक और 4 मैच स्कॉटलैंड ने जीता है। एक मैच ड्रॉ रहा है।

चेक रिपब्लिक की यह दोनों के बीच हुए पिछले 6 मैचों में दूसरी जीत थी। 3 में स्कॉटलैंड की टीम ने जीत हासिल की। वहीं, 1 मैच ड्रॉ रहा है। इस मैच से पहले स्कॉटलैंड की टीम चेक के खिलाफ पिछले 3 मैच जीत चुकी थी। चेक की टीम ने पिछले 6 यूरो कप मैचों में पहली बार पहले हाफ में ओपनिंग गोल दागा।

इससे पहले 2012 में ग्रीस के खिलाफ यह कारनामा किया था। यूरो कप के पिछले 5 मैचों में पहली बार चिक ने ओपनिंग गोल दागा। इससे पहले पिछले 4 यूरो कप मैचों में चेक ने सामने वाली टीम को ओपनिंग गोल करने दिया था। चिक ने अब तक 27 इंटरनेशनल मैचों में 13 गोल दागे हैं। पिछले 11 इंटरनेशनल मैचों में यह उनका 7वां गोल था।

चेक रिपब्लिक पहले चेकोस्लोवाकिया के रूप में खेलती थी। तब 1976 में टीम ने यूरो कप ट्रॉफी भी उठाई थी। 1996 में टीम फाइनल में पहुंची थी, तब टीम को जर्मनी के हाथों 2-1 से हार मिली थी। चेक रिपब्लिक 1996 के बाद से पिछले 6 मेजर टूर्नामेंट में से 4 में ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई थी। यूरो कप में टीम को अपने पिछले 10 मैचों में से 6 में हार का सामना करना पड़ा। 3 मैचों में जीत और 1 मैच ड्रॉ रहा।

स्कॉटलैंड की टीम पिछले 7 यूरो कप मैच में से 5 में गोल करने में कामयाब नहीं हो सकी है। टीम यूरो कप 2020 के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली टीम बनी थी। स्कॉटलैंड को क्वालिफाइंग राउंड में 5 मैचों में हार का सामना करना पड़ा था। स्कॉटलैंड की टीम को ग्लास्गो में अपने होम ग्राउंड पर पिछले 9 मैचों में पहली बार हार का सामना करना पड़ा। इसमें से 5 मैचों में टीम ने जीत हासिल की। 3 मैच ड्रॉ रहे हैं।

स्कॉटलैंड का यह 11वां मेजर टूर्नामेंट (वर्ल्ड कप + यूरो कप) है। टीम 1996 में पहली बार यूरो कप खेली थी। हालांकि, स्कॉटलैंड की टीम कभी ग्रुप स्टेज से ऊपर नहीं जा सकी है। वहीं, चेक रिपब्लिक का यह 10वां यूरो कप टूर्नामेंट है। टीम 1996 से पिछले लगातार 7 टूर्नामेंट में खेलती आ रही है। लगातार टूर्नामेंट में क्वालिफाई करने में सिर्फ जर्मनी (13) और फ्रांस (8) ही चेक रिपब्लिक से आगे है।

Previous articleराहुल द्रविड़ ही होंगे श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम के कोच ; 13 जुलाई से वनडे और टी-20 सीरीज होनी है
Next articleराज्य मंत्रिपरिषद का फैसला: धान मिलिंग में पड़ोसी राज्यों के मिलर्स का भी सहयोग लेगी सरकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here